केरल: पादरी पर बॉयज होम के बच्चों के यौन शोषण का आरोप, पुलिस ने किया गिरफ्तार

  • पादरी पर अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने व उनका शोषण करने का आरोप
  • पुलिस ने शोषण के आरोप के चलते ईसाई पादरी को गिरफ्तार
  • कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

By: Mohit sharma

Published: 07 Jul 2019, 02:13 PM IST

नई दिल्ली। केरल की राजधानी कोच्चि से एक शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। यहां ईसाई पादरी पर एक बॉयज होम में रहने वाले बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने व उनका शोषण करने का आरोप लगा है। पुलिस ने यौन शोषण के आरोप के चलते ईसाई पादरी को गिरफ्तार कर लिया है। पल्लुरूथी पुलिस थाने के एक अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि पेरूम्पडम बॉयज होम के निदेशक जॉर्ज उर्फ जेरी (40) को बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किया गया है।

 

Kerala news

पुलिस अधिकारी के अनुसार बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर पादरी को उठा लिया गया और रविवार को उसकी गिरफ्तारी हुई। सात बच्चों के माता-पिता की शिकायत के अनुसार, पादरी काफी समय से बच्चों का यौन शोषण कर रहा था। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

स्टेज के बाद अब भाजपा में तहलका मचाएंगी सपना चौधरी, पार्टी को हो सकते हैं ये 10 फायदे

 

Kerala news

क्या है मामला

दरअसल, फैंसिस जॉर्ज नाम का आरोपी पादरी कोच्चि में सेक्रेड हार्ट्स बॉयज होम का डायरेक्टर है। एक रिपोर्ट के अनुसार पादरी के अत्याचार से परेशान होकर कुछ बच्चे बॉयज होम से भाग कर बाहर आए और यहां आसपास के लोगों की मदद से अपने परिजनों को फोन किया। बच्चों ने अपने घरवालों को पूरी घअना की जानकारी दी। बच्चों की बात सुनकर घरवालों के पैरों तले से जमीन खिसक गई। उन्होंने तुरंत पुलिस से संपर्क किया और जॉर्ज के सारे भेद खुल गए।

Karnataka Political Crisis: सिद्धारमैया बनेंगे CM, भाजपा की बनेगी सरकार!

 

 

Kerala news

पुलिस के अनुसार 7 बच्चों के माता—पिता ने पादरी के खिलाफ शिकायत की है। शिकायत के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। बॉयज होम में छूटकर भागे बच्चों के अनुसार फ्रैंसिस जॉर्ज दिसंबर 2018 से लागातार उनका यौन शोषण कर रहा था। पुलिस ने पादरी के खिलाफ पोक्सो के तहत आईपीसी की धारा 377, 7/8, 9डी में मामला दर्ज किया है।

 

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned