खुलासा: लश्कर-ए-तैयबा के निशाने पर PM मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी, आतंकी हमले की साजिश

  • आतंकी संगठन Lashkar-e-Taiba की साजिश का खुलासा
  • वाराणसी को अपना बेस बनाने का प्रयास कर रहा Lashkar-e-Taiba
  • लश्कर भारत में आतंकी हमले को अंजाम देने के लिए रच रहा साजिश

By: Mohit sharma

Updated: 28 Aug 2019, 11:24 AM IST

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में केंद्र सरकार से फैसले से बौखलाए आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा की बड़े आतंकी हमले की साजिश का खुलासा हुआ है।

खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार लश्कर भारत में आतंकी हमले को अंजाम देने के लिए वाराणसी को अपना बेस बनाने का प्रयास कर रहा है।

 

c4.png

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लश्कर-ए-तैयबा भारत में बड़े आतंकी हमले की योजना बना रहा है। इस क्रम में लश्कर आतंकियों ने पिछले कुछ दिनों में वाराणसी की रेकी की है।

रिपोर्ट में तो यहां तक कहा गया है कि लश्कर का खूंखार आतंकी उमर मदनी 7 मई से 11 मई तक वाराणसी में ठहरा था। मदनी ने यहां कई लोगों से मुलाकात भी की थी।

इस दौरान मदनी के साथ किसी नेपाली मूल के आतंकी के होने की भी बात कही गई है। आपको बता दें कि वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है।

फ्रांस में मोदी—ट्रंप मुलाकात से खुश शत्रुघ्न सिन्हा, प्रधानमंत्री की तारीफ में बोली यह बात

 

c1.png

रिपोर्ट के मुताबिक इस आतंकी हमले को अंजाम देने के लिए उमर मदनी पर अधिक से अधिक संख्या में युवाओं को लश्कर से जोड़ने की जिम्मेदारी मिली है।

हालांकि रिपोर्ट से खुलासा होने के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गईं हैं। आपको बता दें कि इससे पहले केरल के पुलिस प्रमुख लोकनाथ बेहरा ने एक खुफिया सूचना के बाद शुक्रवार को राज्य के सभी 14 जिलों के पुलिस अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश जारी किए थे।

तमिलनाडु के कोयंबटूर में अलर्ट जारी किया गया था कि लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के छह आतंकवादी श्रीलंका के रास्ते राज्य में घुसे हैं।

जम्मू-कश्मीर के लिए सरकार कर सकती है विशेष पैकेज का ऐलान, मोदी कैबिनेट की बैठक आज

c5.png

बेहरा ने पुलिस अधिकारियों से बस स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों, हवाई अड्डों, धार्मिक स्थानों और अन्य संवेदनशील क्षेत्रों में अतिरिक्त सतर्कता बरतने को कहा है।

कुछ स्थानों पर केरल की सीमा तमिलनाडु के साथ लगती है। जानकारी के अनुसार, आतंकवादी समूह में एक पाकिस्तानी नागरिक और पांच श्रीलंकाई तमिल हैं।

 

y.png
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned