scriptसीएम को खून से लिखी चिट्ठी, बोले अफसर लापरवाह | Letter written in blood to CM, officer said careless | Patrika News

सीएम को खून से लिखी चिट्ठी, बोले अफसर लापरवाह

locationदतियाPublished: Feb 26, 2024 11:51:29 pm

गोवंश भूखा, बीमार, गोसेवक रक्षा के लिए आगे आए

Letter written in blood to CM, officer said careless, news in hindi, mp news, datia news

सीएम को खून से लिखी चिट्ठी, बोले अफसर लापरवाह
सीएम को खून से लिखी चिट्ठी, बोले अफसर लापरवाह
मुरैना. गायों की हो रही मौत से दुखी गोसेवक अब आंदोलन के साथ-साथ अपने खून से भावुक होकर मुख्यमंत्री मोहन यादव को पत्र लिख रहे हैं। वे दुखी हैं कि गायों की देखभाल करने वाली गोशालाएं हो या फिर पशुपालन विभाग कोई भी उनकी सुध नहीं ले रहा है।
डॉक्टर इलाज को नहीं आते
गोसेवकों ने बताया कि मुरैना मुख्यालय सहित अंबाह, पोरसा, जौरा, कैलारस, सबलगढ़, पहाड$गढ़, बानमोर क्षेत्रों में गोवंश दम तोड़ रहा है। गोसेवक इन गोवंश को तलाशते हैं लेकिन पशुपालन विभाग के डॉक्टर इलाज के लिए नहीं आते और एंबुलेंस तक मुहैया नहीं कराई जाती। पशुपालन विभाग की अनदेखी के विरोध में आंदोलन करेंगे।
प्रधानमंत्री को भेजी जाएगी चिट्ठी
जिलेभर में 500 से अधिक गोवंश द्वारा खून से लिखी गई चि_ी को डाक के माध्यम से मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री कार्यालय भेजी जाएगी। शहर के जीवाजी गंज स्थित पार्क में गोसेवक हेमू पंडित, लकी डंडौतिया, अंशू, खगेश शर्मा, सौरभ शर्मा, राहुल दीक्षित, सुशील तिवारी, पुष्पेंद्र सिकरवार कैलारस, बृजकिशोर पागलदास महाराज पोरसा, पंकज गौड़ जौरा, राधाकृष्ण गौशाला के भगत जी सबलगढ़, होंडा परमार मुरैना आदि लोग एकत्रित हुए।
नागाजी धाम महंत ने भी लिखा खून से पत्र
जिलेभर में गोवंश की बेकद्री और दुर्गति से क्षुब्ध पोरसा स्थित नागाजी धाम गोशाला के महंत पागलदास महाराज ने भी एक चिट्टी मुख्यमंत्री मोहन यादव के नाम लिखकर पशुपालन विभाग के अधिकारियों, डॉक्टर्स व काम पर सवालिया निशान लगाकर पत्र पर साधुओं ने अपने खून से हस्ताक्षर भी किए।

ट्रेंडिंग वीडियो