मानव तस्करी ने तबाह की थी दर्जनों लड़कियों की जिंदगी, सरकार यूं संवारेगी

गरीबी और बेरोजगारी का फायदा उठाकर तस्कर भोले भाले युवक—युवतियों को मानव तस्करी का शिकार बना लेते हैं (Jharkhand Government To Airlift 62 Human Trafficking Victims From Delhi) (Jharkhand News) (Deoghar News) (Human Trafficking)...

By: Prateek

Published: 28 Jul 2020, 12:38 PM IST

देवघर,रांची: गरीबी और बेरोजगारी का फायदा उठाकर तस्कर भोले भाले युवक-युवतियों को मानव तस्करी का शिकार बना लेते हैं। काम-धंधे का लालच देकर उन्हें शहर बुलाया जाता है और उसके बाद उनका सौदा कर दिया जाता है। लेकिन सरकार चाहे तो मानव तस्करी का शिकार बने ऐसे युवक युवतियों की जिंदगी फिर से संवारी जा सकती है। इसकी बानगी झारखंड में देखने को मिली जहां राज्य सरकार बड़ी संख्या में लड़कियों और लड़कों को एयरलिफ्ट कर उनके घर पहुंचाने वाली है।

यह भी पढ़ें: साउथ ही नहीं बॉलीवुड में फिल्म Raanjhanaa से एंट्री कर छा गए थे Dhanush, एक्टिंग के दम पर बने सुपरस्टार

जी हां, मानव तस्करों के चक्रव्यूह में फंसकर जिल्लत की जिंदगी जीने को मजबूर 60 लड़कियों और 2 लड़कों को जल्द ही विशेष विमान के जरिए रांची लाया जाएगा। संभवत: यह पहला मामला है जब सरकार इस तरह के पीड़ितों को एयरलिफ्ट कर रही हो। झारखंड का महिला बाल विकास विभाग और राज्य संसाधन केंद्र मिलकर इस काम को अंजाम देने वाले है। 30 जुलाई तक इन्हें रांची लाने के बाद इन्हें इनके गृह जिले में भेजा जाएगा। सभी फिलहाल दिल्ली के 17 शेल्टर होम में ठहरे हुए हैं।

यह भी पढ़ें: FDA ने विषाक्त हैंड सैनिटाइजर से किया अलर्ट, 80 प्रतिशत मेथलॉन का हो रहा इस्तेमाल

इन सभी युवक युवकों की दास्तां बहुत दर्द भरी है। दलाल अपनी बातों में फंसाकर इन्हें दिल्ली लेकर आए थे। बाद में मोटी रकम लेकर इनका सौदा कर दिया। अब यह मजदूरों की तरह काम कर रहे है। शारीरिक और मानसिक यातनाएं मानों इनकी जिंदगी का हिस्सा बन गई है। इनमें झारखंड के 15 जिलों के रहने वाली युवतियां हैं।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned