Health News: सेहत और त्वचा के लिए फायदेमंद है एलोवेरा, बिना जानकारी के न करें इस्तेमाल

Health News: मेरिलेंड मेडिकल सेंटर यूनिवर्सिटी के अध्ययन के अनुसार एलो लेटेक्स का गर्भावस्था के दौरान प्रयोग नहीं करना चाहिए...

By: Deovrat Singh

Published: 31 Aug 2021, 11:44 PM IST

Health News: एलोवेरा (ग्वारपाठा) में पीले रंग का लेटेक्स टॉक्सिक है जिससे सिरदर्द, एलर्जी व कैंसर जैसे रोगों का खतरा बढ़ता है। मेरिलेंड मेडिकल सेंटर यूनिवर्सिटी के अध्ययन के अनुसार एलो लेटेक्स का गर्भावस्था के दौरान प्रयोग नहीं करना चाहिए। यह यूट्राइन कॉन्टै्रक्शन पैदा करता है जिससे गर्भपात की आशंका बढ़ती है।

स्टीम बाथ से घटता हाईबीपी का खतरा
ह फ्ते में 4—7 बार स्टीम बाथ लेने से ब्लड प्रेशर के स्तर में गिरावट आती है। इससे रोगों की आशंका 50 फीसदी तक घटती है। ईस्टर्न फिनलैंड यूनिवर्सिटी के शोध के अनुसार बाथ के दौरान शरीर का तापमान बढऩे से धमनियों में रक्तसंचार बेहतर और पसीना निकलने से विषैले तत्त्व बाहर आते हैं।

Read More: कई रोगों के उपचार में पीपल के पत्ते हैं लाभकारी, जानें कब और कैसे करें सेवन

एक घंटे वर्कआउट से डिप्रेशन दूर
हफ्ते में एक घंटे वर्कआउट से डिप्रेशन दूर होता है। जर्नल ऑफ साइकिएट्री में प्रकाशित शोध में वर्कआउट और मेंटल हैल्थ के बीच कनेक्शन मिला। इसमें वर्कआउट करने और न करने वालों को शामिल किया। जिन्होंने हफ्ते में न्यूनतम एक घंटा व्यायाम किया था उनमें डिप्रेशन कम था।

Read More: जानें कौनसी चाय सेहत को नहीं पहुंचाती नुक्सान, यहां पढ़ें पूरी डिटेल्स

कभी थोड़ा ज्यादा भी सो लेना चाहिए
एक शोध के अनुसार तनख्वाह में बढ़ोतरी से भी आपको उतनी खुशी नहीं होती, जितनी एक घंटा ज्यादा सोने से होती है। अमरीकी मनोवैज्ञानिक के मुताबिक रात को एक घंटे ज्यादा सोना किसी इंसान के लिए कई करोड़ रुपए कमाने से भी ज्यादा सुकून देने वाला है। रोजमर्रा में ऐसा न कर पाएं तो छुट्टी वाले दिन कर सकते हैं।

Read More: बारिश के मौसम में जरूर खाएं भुट्टा, यह पेट के लिए है फायदेमंद

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned