CM के गृह जिले दुर्ग में 15 दिन के अंदर दो किसानों ने की खुदकुशी, कर्ज से परेशान किसान की खेत के पेड़ पर लटकते मिली लाश

Farmer suicide in Durg: नंदिनी थाना अंतर्गत ग्राम हरदी के किसान लीलूराम पटेल (45 वर्ष) ने गुरुवार को अपने खेत के मेड़ में एक पेड़ पर फंदे से लटक कर जान दे दी।

By: Dakshi Sahu

Published: 17 Oct 2020, 11:33 AM IST

भिलाई. ग्राम मतरोडीह के किसान की आत्महत्या के बाद जिले में एक और किसान ने आत्महत्या कर ली। नंदिनी थाना अंतर्गत ग्राम हरदी के किसान लीलूराम पटेल (45 वर्ष) ने गुरुवार को अपने खेत के मेड़ में एक पेड़ पर फंदे से लटक कर जान दे दी। किसान लीलूराम पटेल उम्र 45 साल कुछ दिनों से मानसिक रूप से परेशान था। उसके आत्मघाती कदम पर परिवार वालों का कहना है कि कर्ज के कारण वे कुछ दिनों से बहुत परेशान थे।

Read more: दुर्ग जिले में युवा किसान ने की आत्महत्या, नकली कीटनाशक से साढ़े 6 एकड़ फसल तबाह होने से था दु:खी....

किसान के बेटे तोमन पटेल ने पत्रिका को बताया कि उसके पिता ने भिंडी भी लगाई थी। लॉकडाउन में नहीं बिकने का कारण घाटा हो गया। बैंक ऑफ इंडिया से 1 लाख 30 हजार रुपए और जान पहचान वालों से करीब ढाई लाख रुपए कर्ज लिया था। जिससे वह परेशान और हताश रहता था। कृषि लोन भी चुका नहीं पाए थे। उन्होंने घर में लोन के बारे में बताया था। कर्ज के कारण उसके पिता ने यह कदम उठाया। पीडि़त परिवार ने सरकार से कर्ज माफी कराने की मांग की है।

ढाई एकड़ में धान की खेती थी
आत्महत्या करने वाले किसान लीलूराम पटेल के पास ढाई एकड़ खेत है। जिसमें धान की खेती की है। फसल को कीट से बचाने के लिए दवाइयों का छिड़काव किया था। फसल बचा लिया लेकिन उसे इस बात की चिंता सताने लगी कि ढाई एकड़ खेत में जो पैदावार होगी उससे वह कर्ज नहीं चुका सकेगा। लीलूराम की दो बेटी और दो बेटा है। बेटियों की शादी हो गई है।

Read more: आत्महत्या करने वाले किसान की जली फसल का दोबारा गुपचुप सर्वे करने पहुंचे कृषि अधिकारी, भाजपा ने उठाए थे कई गंभीर सवाल....

सरकार करे सहायता
पूर्व संसदीय सचिव लाभचंद बाफना ने बताया कि उन्होंने पीडि़त परिवार से मुलाकात की। घर में मृतक किसान के बुजर्ग पिता भी है। मुखिया की मौत से परिवार बेहद आहत है। परिजनों ने बताया कि मृतक और उनके पिता के नाम पर सवा-सवा एकड़ खेत है। वह बैंक ऑफ इंडिया की पथरिया शाखा से 1.30 लाख रुपए कर्ज लिया था। मौत की वजह तो स्पष्ट नहीं हुई मगर किसान तनाव में था, ऐसा पता चला है। सरकार को चाहिए की राजनीति से ऊपर उठकर पीडि़त परिवार की सहायता करें।

जानिए किसने क्या कहा
टीआई नंदिनी थाना लक्ष्मण कुमेटी ने बताया कि ग्राम हरदी में एक किसान ने खेत के पेड़ पर फांसी लगाकर खुदकुशी की है। जांच में पता चला है कि खेत उसी किसान का है। मर्ग कायम कर मामले की जांच की जा रही है।

आरके सोनकर तहसीलदार धमधा ने बताया कि वे गांव गए थे। परिवार से मिले। किसान की फसल अच्छी है। सोसाइटी में कोई कर्ज नहीं है। उसके शराब पीने के बारे में जानकारी मिली। नशे की हालत में वह खेत की तरफ जाकर फांसी लगा ली थी।

एसडीएम धमधा ब्रजेश कुमार क्षत्रि ने बताया कि किसान के कर्ज की जानकारी नहीं है। पुलिस को गंभीरता से जांच करने के लिए कहा गया है। जांच में जो तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर आगे देखेंगे।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned