विवादों के बीच ब्रिटेन पहुंचे अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, लंदन के मेयर ने जताया विरोध

विवादों के बीच ब्रिटेन पहुंचे अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, लंदन के मेयर ने जताया विरोध

Mohit Saxena | Publish: Jun, 03 2019 03:53:38 PM (IST) | Updated: Jun, 04 2019 01:16:11 PM (IST) यूरोप

  • ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ लंदन पहुंचे
  • ब्रिटेन में अमरीका के राजदूत वुडी जॉनसन ने किया उनका स्वागत
  • लंदन के मेयर सादिक खान ने ट्रंप की यात्रा की आलोचना की

वाशिंगटन। अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोमवार को ब्रिटेन की यात्रा पर लंदन पहुंचे। इस दौरान उनके साथ फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप भी मौजूद थीं। लंदन में एक भव्य समारोह के साथ दोनों का स्वागत किया गया। ट्रंप के स्वागत के लिए ब्रिटेन के राजदूत वुडी जॉनसन और विदेश सचिव जेर्मी हंट भी समारोह में शामिल हुए। इसके बाद ट्रंप को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। बाद में ट्रंप एक हेलीकॉप्टर में मरीन वन के लिए रवाना हो गए।

लंदन: गैटविक एयरपोर्ट में चाकू लेकर घुसा शख्स, खाली कराया गया हवाईअड्डा

Trump and melania

मेयर सादिक खान ने उन्‍हें 'फासीवादी' करार दिया

ट्रंप की ब्रिटेन यात्रा से पहले लंदन के मेयर सादिक खान ने उन्‍हें 'फासीवादी' करार दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि देश को ऐसे नेता के लिए 'रेड कार्पेट' नहीं बिछानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि ट्रंप बढ़ते वैश्विक खतरे का सबसे बड़े कारण हो सकते हैं। इस कारण उन्हें आमंत्रित नहीं किया जाना चाहिए था। बता दें कि खान पाकिस्‍तानी मूल के ब्रिटिश नागरिक हैं। ट्रंप के ब्रिटेन दौरे से पहले उन्‍होंने कहा कि अमरीका के साथ बेहतर ताल्‍लुकात है, पर उन्हें नहीं लगता कि रेड कार्पेट बिछाने की आवश्यकता है।

हमारा इरादा 'बॉस' बनने का नहीं, अमरीका को चुनौती देना असंभव: चीन

trump and melania

ट्रंप पहले भी ब्रिटेन का दौरा कर चुके

ट्रंप इससे पहले भी ब्रिटेन का दौरा कर चुके हैं, लेकिन आधिकारिक तौर पर यह उनका पहला दौरा होगा। वहीं, आशंका जताई जा रही है कि इस यात्रा के दौरान मंगलवार को कुछ संगठन लंदन में उनके खिलाफ प्रदर्शन भी कर सकते हैं। आपको याद दिला दें कि ट्रंप का ब्रिटेन दौरा ऐसे समय में हो रहा है, जबकि देश यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के मुद्दे पर अब तक किसी समझौते पर नहीं पहुंच पाया है।

इस मुद्दे पर अमरीकी राष्‍ट्रपति का कहना है कि ब्रिटेन को यूरोपीय संघ के साथ बिना किसी समझौते के ही ब्रेक्जिट पर आगे बढ़ जाना चाहिए। उन्होंने थेरेसा मे के प्रधानमंत्री पद से इस्‍तीफे की पेशकश से बाद से बोरिस जॉनसन की खूब प्रशंसा की है। उन्होंने कहा है कि वह जिम्‍मेदारी बखूबी निभा सकेंगे। उन्‍होंने यह भी कहा कि जॉनसन 'उत्कृष्ट' प्रधानमंत्री साबित हो सकते हैं। गौरतलब है कि थेरेसा मे 7 जून को अपने पद से इस्तीफा देने वाली हैं।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned