दाल मिल कराएगी कमाएगी, सरकार से भी मिल सकती है मदद

  • दाल मिल है कमाई का बेहतरीन जरिया
  • कृषि से जुड़े काम पिलहाल है सुरक्षित
  • 8 लाख तक होगा निवेश
  • हर महीनें 60 हजार रूपए तक होगी कमाई

By: Pragati Bajpai

Published: 23 May 2020, 07:09 PM IST

नई दिल्ली: जिस तरह से आर्थिक राहत पैकेज ( Economic Relief Package ) में मोदी सरकार ( Modi Govt ) खेती, किसानो और छोटे व्यवसायियों को समर्थन दिया है उससे फिलहाल कृषि से जुड़े कामों समें ही सबसे ज्यादा सुरक्षा नजर आ रही है। यहां तक कि खुद RBI के गवर्नर ( rbi governor ) शक्तिकांत दास ने माना कि कोरोना के संक्रमण काल में अगर कुछ काम करना सुरक्षित है तो सिर्फ कृषि और इससे जुड़े काम है लेकिन ऐसे में सवाल उठता है जिन लोगों के पास कृषि के लिए जमीन नहीं है वो क्या करें । ऐसे लोग कृषि से जुड़े काम कर सकते हैं और इन कामों के लिए वो सरकार से मदद भी ले सकते हैं। ऐसा ही एक कारोबार है दाल मिल।

घरेलू उड़ानों के बाद International Flights की तैयारी, जुलाई से हो सकती हैं शुरू

कैसे शुरू कर सकते हैं दाल मिल का काम- दाल मिल ( pulses mills ) का बिजनेस शुरू करने के लिए कम से कम 25 से 30 वर्गफिट की जगह चाहिए। इसके साथ ही आपको 4 से 8 लाख रूपए मशीन में निवेश के लिए चाहिए होता है। इस मिल को रजिस्टर कराने पर आप MSMEs का लाइसेंस हासिल कर सकते हैं।

1 जून से घरेलू फ्लाइट शुरू करेगी GoAir, सरकार दे चुकी है इजाजत

ब्रांडिंग खुद कराने के लिए चाहिए परमीशन- अपने प्रोडक्ट की ब्रांडिंग खुद करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको खाद्य मंत्रालय से अनुमति लेनी होगा। इसके साथ ही इसके लिए आपके पास अनिवार्य रूप से PAN और करंट अकाउंट होना चाहिए ।

घरेलू उड़ानों के बाद International Flights की तैयारी, जुलाई से हो सकती हैं शुरू

कितना होगा फायदा- अगर आप 3HP की छोटी मशीन लगाते हैं तो हर घंटे 100 किलों दाल बना सकते हैं। और 1 किलो दाल पर 2 रूपए का फायदा होता है इस तरह आप अगर 10 घंटे मशीन चलाएंगे तो प्रतिदिन 2000 रूपए की बचत कर सकते हैं ।

Pragati Bajpai Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned