कोरोना काल में भी मोटा मुनाफा देगी Post Office की Senior Citizen Savings Scheme, 10 लाख निवेश पर मिलेगा 4 लाख का ब्याज

  • Senior Citizen Savings Scheme ( SCSS )
  • इनकम टैक्स एक्ट 1961 ( Income Tax Act, 1961 ) के तहत बचा सकते हैं टैक्स ( Tax Rebate )
  • फिलहाल 7.4 फीसदी का मिल रहा है ब्याज

By: Pragati Bajpai

Published: 24 Jul 2020, 02:19 PM IST

नई दिल्ली: कोरोना की वजह से सभी की फाइनेंशियल हेल्थ खराब हो चुकी है। इक्विटी और debt में रिटर्न कम हो गया है तो वहीं दूसरी ओर बैंकों में fixed deposits पर रिटर्न नाम मात्र का रह गया है । ऐसे में उन लोगों के लिए हालात बेहद खराब है जो सिर्फ और सिर्फ पेंशन पर डिपेंड हैं क्योंकि ये लोग अब दूसरा कोई काम भी नहीं कर सकते हैं।

खराब Cibil Score के बावजूद आसानी से मिलेगा Loan, यहां करें अप्लाई

इसीलिए आज हम आपको कुछ ऐसी स्कीम के बारे में बताएंगे जिनमें रिटर्न किसी भी नार्मल बचत योजना से ज्यादा आता है। हम बात कर रहे हैं पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम (SCSS) । इस स्कीम की बात करें तो एकमुश्त 10 लाख रूपए निवेश करने पर आपको सालाना 7.4 फीसदी (कंपाउंडिंग) ब्याज दर के हिसाब से 5 साल बाद 14,28,964 रुपये मिलेंगे । चलिए बताते हैं आपको इस स्कीम के बारे में सबकुछ-

Fixed Deposit से 6 गुना ज्यादा मुनाफा कमाना है तो Gold ETF में करें निवेश

Senior Citizen Savings Scheme ( SCSS )-

  • 60 या इससे ज्यादा उम्र के लोग इन स्कीम्स में इंवेस्ट कर सकते हैं, लेकिन अगर आपने VRS ले रखा है तब आप 55 की उम्र में भी इंवेस्ट करना शुरू कर सकते हैं। खास बात ये है कि आपको इसमें अकाउंट खोलने की सुविधा भी मिलती है, साथ ही चाहें तो आप किसी को नॉमिनी भी बना सकते हैं।
  • खाता खुलवाने के लिए आपको 100000 रुपए का चेक देना पड़ता है।
  • इन स्कीम्स में 5 साल के लिए पैसा निवेश किया जा सकता है लेकिन अगर आप चाहें तो 3 साल तक एक्सटेंड कर सकते हैं।
  • सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम्स में 15 लाख रुपए तक इंवेस्ट कर सकते हैं। और इस रकम पर सालाना 7.4 फीसदी का ब्याज मिलता है। हालांकि, इस ब्याज पर टैक्स देना होता है।
  • 2007 से इनकम टैक्स एक्ट 1961 (Income Tax Act, 1961) के सेक्शन 80C के अंतर्गत इन स्कीम्स पर टैक्स छूट भी मिल रही है।
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned