फिरोजाबाद में कांग्रेस का बंटाधार का कारण बनेंगे कांग्रेसी, यह है बड़ी वजह

— कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव के सामने कांग्रेसियों में चला आरोप—प्रत्यारोप का दौर।

By: arun rawat

Published: 20 Jun 2021, 11:05 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में कांग्रेस को हर बार करारी हार का सामना करना पड़ता है। वर्ष 2009 में राजबब्बर ने यहां से लोकसभा सीट जीतकर जैसे तैसे कांग्रेस को मजबूती देने का काम किया लेकिन अब पार्टी की अंदरूनी फूट उसका बंटाधार का कारण बन सकती है। बैठक में शामिल होने आए राष्ट्रीय सचिव के सामने ही कांग्रेसियों की रार सामने आ गई।
यह भी पढ़ें—

पति के अवैध संबंधों के शक में मायके रह रही पत्नी को ससुरालीजनों ने नहीं घुसने दिया घर में, कई घंटे खड़ी रही बाहर

चुनाव की तैयारियों में है कांग्रेस
विधानसभा चुनाव 2022 के लिए कांग्रेस प्रदेश के विभिन्न जिलों में पार्टी के संगठन को मजबूत बनाने के प्रयास में जुटी है। इसी श्रंखला में शनिवार को शहर के घर संसार अपार्टमेंट में कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव रोहित चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश दीक्षित, प्रदेश महासचिव प्रकाश प्रधान एक बैठक को संबोधित करने आए थे। उन्हीं के सामने कांग्रेसी भिड़ गए। एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाने लगे। पदाधिकारियों ने जिले के नेताओं पर भाजपा और सपा का एजेंट होने के आरोप लगाए।
यह भी पढ़ें—

पत्रकार के सवाल पूछने पर जांच करने आए नायब तहसीलदार भड़के, लात मारकर हड़काया


बैठक की सूचना न देने का आरोप
पूर्व जिलाध्यक्ष हरीशंकर तिवारी, पीके पाराशर, राजेश शर्मा, प्रशांत तिवारी ने कहा कि भाजपा और सपा से आकर पार्टी में शामिल होने वालों की मानसिकता नहीं बदली है। वह भाजपा और सपा के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष संदीप तिवारी द्वारा बैठकों की सूचना नहीं दी जाती है। राष्ट्रीय सचिव ने बताया कि कार्यकर्ताओं ने अपनी बात कही थी। इस पर विचार किया जाएगा। सभी लोगों का मत है कि पार्टी किस तरह आगे बढ़े, यह अच्छी बात है। जिलाध्यक्ष संदीप तिवारी ने बताया कि जिन लोगों ने बैठक में अनुशासनहीनता की है उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned