Lockdown के बीच नाबालिग लड़की ने मांगी लिफ्ट, चालक ने रोकी कार तो हो गया बड़ा कांड

Highlights:

-अर्थला के रहने वाले लोकेश अपनी गाड़ी में सवार होकर किसी जरूरी कार्य से जा रहे थे

-एक नाबालिग लड़की के द्वारा उनसे लिफ्ट मांगी गई

-लोकेश ने नाबालिग लड़की देख कर लिफ्ट देने के लिए गाड़ी रोकी

By: Rahul Chauhan

Updated: 10 Apr 2020, 12:26 PM IST

गाजियाबाद। कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा देशभर में लॉकडाउन किया हुआ है। इस दौरान केवल वही लोग घर से बाहर निकल पा रहे हैं जिन्हें किसी जरूरी काम से जाना हो या खाने का सामान खरीदना हो। लेकिन ऐसे में भी बदमाश लोगों को अपना निशाना बनाने से नहीं चूक रहे हैं।

यह भी पढ़ें : Coronavirus के केस मिलने के बाद पहली बार Drone से कराया गया सैनिटाइजेशन, हैरान करने वाली है वजह

ताजा मामला गाजियाबाद की शहर कोतवाली इलाके में सामने आया। दरअसल, अर्थला के रहने वाले लोकेश वर्मा अपनी स्विफ्ट गाड़ी में सवार होकर किसी जरूरी कार्य से जा रहे थे। जब वह इस इलाके से निकल रहे थे। अचानक ही एक नाबालिग लड़की के द्वारा उनसे लिफ्ट मांगी गई। लोकेश वर्मा ने नाबालिग लड़की देख कर लिफ्ट देने के लिए गाड़ी रोकी। जिसके कुछ देर बाद ही पास में खड़े अन्य तीन युवकों द्वारा चालक को बंधक बना लिया गया और उनसे गाड़ी लूटकर फरार हो गए।

जिसकी सूचना आनन-फानन में पीड़ित द्वारा स्थानीय पुलिस को दी गई। सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी करते हुए नाबालिग लड़की और एक युवक को गाड़ी सहित गिरफ्तार कर लिया। जबकि उसके अन्य 2 साथी भागने में कामयाब हो गए। फिलहाल पुलिस इन फरार बदमाशों की भी तलाश में जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें: घर में छिपा था निजामुद्दीन मरकज से लाैटा जमाती, सर्विलांस से हुआ ट्रैस, अब पूरा परिवार खतरे में

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए गाजियाबाद के एसपी सिटी मनीष कुमार मिश्रा ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आया है। पीड़ित द्वारा शहर कोतवाली पुलिस को सूचना दी तो पुलिस ने तत्काल प्रभाव से बदमाशों की घेराबंदी करते हुए गाड़ी को बरामद करते हुए नाबालिग लड़की और एक उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है। इनके दो अन्य साथी फरार हैं। जिनकी तलाश जारी है। उन्हें भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned