शुरू हुआ एशिया के सबसे बड़े रेलवे ऑवर ब्रिज का निर्माण, पहले ही दिन रोकनी पड़ी 155 ट्रेन

गाजियाबाद में बन रहे इस अनोखे ऑवर ब्रिज ( rob ) का रातों-रात चल रहा निर्माण कार्य इंजीनियरों के अनुसार किसी अजूबे से कम नहीं होगा यह आरओबी

By: shivmani tyagi

Updated: 10 Apr 2021, 01:46 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद ( ghazibad news ) जिले में सबसे बड़े आरओबी ( rob ) का निर्माण शुरू हो गया है। बताया जा रहा है कि यह एशिया का सबसे बड़ा आरओबी यानी ऑवर ब्रिज ( railway over bridge ) होगा। इसके निर्माण की शुरुआत गुरुवार की रात से हाे गई है। यह आरओबी गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से कुछ ही दूरी पर चिपियाना में बनाया जा रहा है ।

यह भी पढ़ें: बीयर और शराब के शौकीनों की लग गई लॉटरी, एक अप्रैल से कीमतों में भारी कमी

( latest ghazibad news ) आपकाे यह जानकर हैराानी हाेगी कि गुरुवार काे जब इस आरओबी की शुरुआत की गई ताे पहला पिलर लांच करने के लिए करीब 155 ट्रेनों काे रोकना पड़ा। पहले ही दिन 155 लोकल एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन इस ऑवरब्रिज की वजह से प्रभावित हुआ। इनमें से कुछ ट्रेनों को रोकना पड़ा तो कुछ ट्रेनों को दूसरे रूट से निकाला गया। इसके बाद रेलवे ने यह निर्णय किया है इस ऑवर ब्रिज पर सबसे अधिक काम रात में हाेगा ताकि कम से कम ट्रेनें प्रभावित हों।

यह भी पढ़ें: आजकल क्यों लग रहे हैं कुछ भी छूने से बिजली जैसे करंट के झटके ? एक्सपर्ट से जानिए वजह

दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे के दूसरे चरण में बनाए जा रहे चिपियाना आरओबी का पहला गार्डर गुरुवार की रात लांच किया गया। यह इंजीनियरों का कमाल था कि ब्लॉक की अवधि से खत्म होनें से आधे घंटे पहले ही गार्डर को लॉन्च किया गया। रात में भी तेजी से निर्माण किए जाने के उद्देश्य से 66 बड़ी लाइट लगाई गई हैं ताकि रात के अंधेरे में भी निर्माण कार्य किया जा सके और ट्रेनों का रूट ज्यादा समय के लिए प्रभावित ना हो।

यह भी पढ़ें: आधी रात से महंगा हुआ हाइवे का सफर, अब बढ़ी हुई दरों पर भरना हाेगा टोल टैक्स

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए परियोजना निदेशक मोहित गर्ग ने बताया कि चिपियाना में आरओबी की शुरुआत की गई है। इसके लिए पहला ब्लॉक गुरुवार की रात 12:30 बजे से लेकर सुबह 4:00 बजे तक रहा पहले दो दिन 3:30 घंटे का ब्लॉक मिला है जबकि 11, 13, 14 ,15 ,19 और 20 अप्रैल को 3-3 घंटे का ब्लॉक मिले हैं। इसके अलावा 21, 22, 23 और 24 अप्रैल को दो-दो घंटे का ब्लॉक मिला है। ज्यादातर ब्लॉक रात के 12:00 से सुबह 4:00 के बीच के मिले हैं। उन्होंने बताया कि यह आरओबी सबसे बड़ा आरोबी है। जल्द मौसम ऐसे ही कार्य पूरा करने के लिए बड़ी संख्या में यहां कारीगर कार्य कर रहे हैं और माना जा रहा है। जिस तरह से इस आरोपी का डिजाइन है । वह एशिया का सबसे बड़ा आरओबी हो सकता है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned