Ghaziabad: जीटीबी अस्पताल की नर्स को हुआ कोरोना, दो बच्चों व पति को किया गया क्वॉरेंटाइन

Highlights

  • नंदग्राम में रहने वाले एक शख्स में भी हुई कोरोना की पुष्टि
  • जनहित इंस्टिट्यूट मटियाला में क्वॉरेंटाइन किया गया कई जमातियों को
  • विदेश यात्रा किए हुए अभी तक 2043 लोगों को किया गया है चिन्हित

 

By: sharad asthana

Updated: 09 Apr 2020, 09:54 AM IST

गाजियाबाद। जनपद में पिछले दो दिन से कोरोना का कोई केस नहीं मिला था, लेकिन बुधवार को जीटीबी अस्पताल की एक नर्स इसकी चपेट में आ गई। वह भोपुरा में रहती हैं। उन्हें दिल्ली में ही भर्ती कराया गया है जबकि उनके दो बच्चों और पति को क्वॉरेंटाइन किया गया है। इसके अलावा नंद ग्राम इलाके में ही रहने वाले एक और शख्स को कोरोना की पुष्टि हुई है। उसे जिला एमएमजी अस्पताल में रखा गया है। इनके संपर्क में आए लोगों को चिन्हित किया जा रहा है।फिलहाल कुछ लोगों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है।

जमातियों पर रखी जा रही है नजर

सीएमओ एनके गुप्ता ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से जमातियों पर भी निगरानी बनाए हुए है। स्वास्थ्य विभाग ने लोनी की पांच मस्जिदों से 61, चिरोड़ी मदरसे से 29, विजयनगर से 3 और कौशांबी से एक जमाती को जनहित इंस्टिट्यूट मटियाला में क्वॉरेंटाइन किया है। सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। मंगलवार देर रात नंदग्राम में रहने वाले एक शख्स ने निजी लैब में जांच कराई थी। उसमें बीमारी की पुष्टि होने के बाद उसको जिला एमएमजी अस्पताल में भर्ती किया गया है। पीड़ित के तीन बच्चे, पत्नी और मां को गाजियाबाद के आरकेजीआईटी में क्वॉरेंटाइन कराया गया है।

यह भी पढ़ें: Rampur: टांडा में 11 जमातियों में से पांच में कोरोना की पुष्टि, इलाके को किया गया सील

टीम लगातार कर रही है सर्वे

गाजियाबाद में स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार सर्वे करने में जुटी हुई है। विदेश यात्रा किए हुए अभी तक 2043 लोगों को चिन्हित किया गया है। इनमें से 722 लोग 28 दिन तक क्वॉरेंटाइन का समय पूरा कर चुके हैं। वर्तमान में करीब 21 लोगों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है। गाजियाबाद में अभी तक कुल 598 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इनमें से 493 लोगों की नेगेटिव रिपोर्ट आई है, जबकि 82 लोगों की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। सीएमओ एनके गुप्ता ने बताया कि गाजियाबाद में अब तक कोरोना के 25 केस आए हैं। इनमें से तीन पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। 196 ऐसे लोगों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है, जिनके नजदीकियों में कोरोना पाया गया था। सीएमओ ने बताया कि एसटीएस और एसडीएलएस टीम ने कुल 589 घरों का सर्वे किया है। तीन घरों पर होम क्वॉरेंटाइन का स्टीकर लगाया गया है। आरबीएसके टीम ने 400 घरों का सर्वे किया है। इस टीम ने एक घर पर होम क्वॉरेंटाइन का स्टीकर लगाया है।

यह भी पढ़ें: मेरठ रेंज के सभी सील हॉटस्पॉट पर पुलिस मुस्तैद, आईजी ने संभाली कमान, उल्लंघन करने वालों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई

इन पर रखी जा रही है निगरानी

— राज नगर एक्सटेंशन की 32 सोसाइटी में रहने वाले कुल ढाई लाख लोग
— कौशांबी की 10 सोसाइटी में रहने वाले एक लाख लोग
— शालीमार गार्डन एक्स की 26 सोसाइटी में रहने वाले 62000 लोग
— वैशाली सेक्टर—6 की 28 सोसाइटी में रहने वाले 69000 लोग
— रत्नागिरी अपार्टमेंट में लगभग 2000 लोग
— शिप्रा अपार्टमेंट में लगभग 4000 लोग
— फ्लेमिंगो ब्लॉक सेवियर पार्क में 2000 लोग

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned