भीषण गर्मी में बेजुबान और असहाय पशु-पक्षियों का भी ध्यान रख रहे अधिकारी, जगह-जगह की गई खास व्यवस्था

गाजियाबाद जिला प्रशासन ने जगह-जगह की पानी की व्यवस्था। लोग भी सेवा भाव से इनमें पानी भरवा सकते हैं।

By: Rahul Chauhan

Published: 11 Jun 2021, 12:23 PM IST

गाजियाबाद। जिला प्रशासन ने अब असहाय और बेजुबान पशु-पक्षियों के पानी पीने की अलग तरह से व्यवस्था की है। जिसके चलते जगह-जगह पानी के छोटे और बड़े कटोरे लगाए जाएंगे और उनके जरिए असहाय और बेजुबान पशु पक्षियों के लिए पानी भरा जाएगा। बड़ी बात यह है कि यह कटोरे जिला प्रशासन की तरफ से विकास भवन से लोगों को निशुल्क दिए जाएंगे, जो लोग इस तरह की सेवा करना चाहते हैं, तो वह विकास भवन से यह कटोरे लाकर ऐसी जगह लगा सकते हैं। जहां पर वह रोजाना उसमें ताजा पानी भर सकें और उसकी देखरेख कर सकें। जिससे बेजुबान और असहाय पशु पक्षी भी आसानी से पानी पी सकें।

यह भी पढ़ें: श्मशान घाट पर मोक्ष का इंतजार कर रहीं अस्थियों को 'स्पीड पोस्ट' दिलवाएगी मुक्ति

प्रशासन की इस पहल को सभी लोग सराहनीय कदम मान रहे हैं। कारण, जीने का हक सभी को है और जिस तरह से खासतौर से कोरोना काल में आम लोगों का सारा सिस्टम बदल गया है। इस दौरान पशु पक्षी भी बेहद प्रभावित हुए हैं। क्योंकि तेज गर्मी होने के कारण अब उन्हें पीने का पानी भी साफ नहीं मिल पा रहा है। अक्सर देखा गया है कि पशु पक्षी जब प्यासे होते हैं तो वह नाली का पानी पीकर ही अपनी प्यास बुझाते हैं। जिसका परिणाम यह निकलता है कि वह भी बीमार होने से नहीं बच पाते और कोई ना कोई बीमारी उन्हें भी घेर लेती है। जिसका पर्यावरण पर भी सीधा असर पड़ता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन द्वारा यह पहल स्थानीय निकाय एवं पशुपालन विभाग के सहयोग से पशु पक्षियों के लिए पानी के कटोरे की उपलब्धता नि:शुल्क सुनिश्चित कराई जा रही है।

यह भी पढ़ें: यूपी के 33 जिलों में अगले दो दिन भारी बारिश का अलर्ट, मानसून को लेकर मौसम विभाग ने की ये भविष्वाणी

इसके अंतर्गत कोई भी व्यक्ति जो पशु पक्षियों को स्वच्छ पानी पिलाने के लिए अपने मन में उनके प्रति प्रेम एवं सदभाव रखता है। वह इन्हें नि:शुल्क विकास भवन से किसी भी कार्यालय दिवस में प्राप्त कर सकता है।उसको मात्र इतनी जिम्मेदारी का निर्वहन करना है कि इस पानी के कटोरे में वह रोजाना हर समय स्वच्छ जल की उपलब्धता सुनिश्चित करे जिससे कि कोई भी पशु -पक्षी वहां से गुजरे तो वह पानी पी सके। आपका इतना सा सहयोग बेजुबान एवं बेसहारा पशु-पक्षियों के लिए जहां स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करेगा। वहीं हमारे पर्यावरण और स्वयं हमें भी स्वस्थ रखने में सहयोग प्रदान करेगा। जो व्यक्ति इस वाटर बाउल को ले जाना चाहे, उनसे प्रशासन ने अनुरोध किया है कि इसको रखने के स्थान की लोकेशन भी उजागर करें। जिससे अन्य लोग भी प्रेरित होकर के ऐसे वाटर बाउल प्राप्त कर सकें और यदि उसमें पानी ना हो तो उसमें स्वच्छ पेयजल भर दे जिससे पशु-पक्षियों को पानी उपलब्ध हो सके।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned