scriptGonda Commissioner orders bulldozer reached 6 houses built on pond demolished | आयुक्त के आदेश पर पहुंचा बुलडोजर सहमे ग्रामीण तालाब पर अवैध रुप से बने 6 मकान हुए जमीदोंज | Patrika News

आयुक्त के आदेश पर पहुंचा बुलडोजर सहमे ग्रामीण तालाब पर अवैध रुप से बने 6 मकान हुए जमीदोंज

locationगोंडाPublished: Feb 07, 2024 08:38:47 pm

Submitted by:

Mahendra Tiwari

प्रशासन का बुलडोजर अब गांव की तरफ चल पड़ा है। जिससे सरकारी और सुरक्षित जमीनों पर कब्जा किये लोगों के बीच हड़कंप मच गया है। आयुक्त के आदेश पर एक गांव में अवैध रूप से तालाब की जमीन पर बने छह मकान को प्रशासन ने बुलडोजर चलाकर जमीदोंज कर दिया।

अवैध अतिक्रमण के खिलाफ गरजा बुलडोजर
अवैध अतिक्रमण के खिलाफ गरजा बुलडोजर
जिले में सरकारी और तालाब की जमीनों पर हुए अवैध कब्जे के खिलाफ प्रशासन लगातार कार्यवाई कर रहा है। शहर में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाने के बाद प्रशासन के बुलडोजर का मुंह अब गांव की तरफ हो गया है। एक गांव में आयुक्त के आदेश पर अवैध रूप से तालाब की जमीन पर बने मकान को बुलडोजर चलाकर ध्वस्त कर दिया गया है।
गोंडा जिले के मनकापुर तहसील के गांव इटरौर में कुछ लोगों ने तालाब को पाटकर अवैध रूप से मकान बना लिया था। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत मनकापुर तहसील में किया। शिकायत के बाद प्रशासन ने इसकी जांच कराई। जांच में इस बात की पुष्टि हो गई की गाटा संख्या 832 तालाब के खाते में दर्ज है। न्यायालय और एनजीटी लगातार वेटलैंड को सुरक्षित करने का आदेश दे रहा है। इसके बावजूद भी लोग गांव में तालाब पाटकर मकान बना रहे हैं। जिला प्रशासन के अवैध रूप से अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ लगातार कार्यवाई की जा रही है। जिससे अवैध रूप से अतिक्रमण करने वालों के बीच हड़कंप मच गया है।
आयुक्त के आदेश पर गरजा बुलडोजर 6 मकान हुए ध्वस्त

मण्डलायुक्त देवीपाटन मंडल योगेश्वर राम मिश्र के आदेश पर मनकापुर के ग्राम इटरौर में अवैध तालाब पर हुए अतिक्रमण के खिलाफ तहसील प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। तहसीलदार न्यायिक के आदेश के क्रम में अतिक्रमणकारियों को हटाते हुए राजस्व अभिलेखों में तालाब खाते में दर्ज भूमि को कब्जा मुक्त किया गया। नायब तहसीलदार और क्षेत्रीय राजस्व निरीक्षक लेखपाल के साथ-साथ भारी संख्या में पुलिस टीम की उपस्थित में गाटा संख्या 832 तालाब भूमि से अवैध अतिक्रमणकारी ओमकार, पूजा, विजय प्रताप, शिव प्रताप शुक्ला आदि के द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाया गया।

ट्रेंडिंग वीडियो