scriptGonda In case of death of lineman , samvida workers do dharna | लाइनमैन की मौत के मामले में विद्युत संविदा कर्मचारी संघ ने दोषियों की गिरफ्तारी व मुआवजे की मांग को लेकर दिया धरना, कल से करेंगे कार्य बहिष्कार | Patrika News

लाइनमैन की मौत के मामले में विद्युत संविदा कर्मचारी संघ ने दोषियों की गिरफ्तारी व मुआवजे की मांग को लेकर दिया धरना, कल से करेंगे कार्य बहिष्कार

locationगोंडाPublished: Sep 19, 2022 06:55:17 pm

Submitted by:

Mahendra Tiwari

गोंडा पुलिस हिरासत में हुई विद्युत संविदा कर्मी देवा की मौत के मामले को लेकर विद्युत संविदा कर्मचारी संघ के बैनर तले जुटे सैकड़ों की संख्या में संविदा कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन कर दोषी पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी, व मुआवजा की मांग को लेकर मुख्य अभियंता को ज्ञापन सौंपा, मांगे ना माने जाने पर मंगलवार से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करेंगे।

img-20220919-wa0002.jpg
नवाबगंज थाने में पुलिस हिरासत में हुई विद्युत संविदा कर्मी देवनारायण उर्फ देवा की मौत के मामले को लेकर आक्रोश थमने का नाम नहीं ले रहा है। विद्युत संविदा कर्मचारी संघ के बैनर तले जुटे सैकड़ों संविदा कर्मियों ने मुख्य अभियंता कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर अपनी मांगों के समर्थन में 2 सूत्री ज्ञापन सौंपा। मुख्य अभियंता को दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि देवा की मौत के मामले में दोषी पुलिसकर्मियों की बर्खास्तगी के साथ-साथ इनकी तत्काल गिरफ्तारी की जाए। साथ ही साथ मृतक के परिजनों को 50 लाख रुपए का मुआवजा पुलिस कर्मियों के वेतन से कटौती कर दिया जाए। यदि हमारी मांगे नहीं मानी जाती है तो हम कल से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करेंगे। जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं हो जाती हैं। तब तक कार्य बहिष्कार चलता रहेगा। बता दें कि विद्युत संविदा कर्मचारी संघ ने बीते 15 सितंबर को मुख्य अभियंता को एक चेतावनी पत्र देकर 19 सितंबर से धरना प्रदर्शन शुरू करने की चेतावनी दिया था। अब तक मांगे पूरी ना होने पर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मुख्य अभियंता कार्यालय के सामने जुटे सैकड़ों विद्युत संविदा कर्मियों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इस संबंध में मध्यांचल विद्युत वितरण खंड के जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि बीते 14 सितंबर को संविदा कर्मचारी देवनारायण उर्फ देवा को पुलिस के बुलावे पर उनके परिजन नवाबगंज थाने लेकर गए थे। पुलिस की बर्बरता के कारण उसकी मौत हो गई। हम दोषी पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर उनकी गिरफ्तारी की जाए तथा मुआवजे की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। यदि हमारी मांगे आज नहीं मानी जाती हैं तो कल से हम अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करेंगे।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.