script AIIMS गोरखपुर में कोरोना की इंट्री, सीनियर डॉक्टर सहित परिवार के दो अन्य पॉजिटिव मिले | gorakhpur news, corona in gorakhpur, AIIMS doctor with 2 family member | Patrika News

AIIMS गोरखपुर में कोरोना की इंट्री, सीनियर डॉक्टर सहित परिवार के दो अन्य पॉजिटिव मिले

locationगोरखपुरPublished: Dec 26, 2023 09:44:33 am

Submitted by:

anoop shukla

एम्स में वरिष्ठ चिकित्सक एवं उनके परिवार के दो सदस्य संक्रमित मिले हैं। चिकित्सक एम्स में सीनियर प्रशासनिक पद पर हैं। उनकी कोई ट्रैवेल हिस्ट्री नहीं है। परिवारीजनों की भी ट्रैवेल हिस्ट्री नहीं है। वह होम आइसोलेशन में हैं। सूचना के बाद स्वास्थ्य विभाग ने संपर्क किया।

AIIMS गोरखपुर में कोरोना की इंट्री, सीनियर डॉक्टर सहित परिवार के दो अन्य पॉजिटिव मिले
AIIMS गोरखपुर में कोरोना की इंट्री, सीनियर डॉक्टर सहित परिवार के दो अन्य पॉजिटिव मिले
देश ने कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर अलर्ट के बीच गोरखपुर में फिर कोरोना वायरस की एंट्री हो गई है। एम्स में मरीजों की जांच में तीन नमूने पॉजिटिव मिले हैं। सोमवार को एम्स प्रशासन ने पोर्टल पर संक्रमितों का ब्योरा अपडेट किया है।
AIIMS डॉक्टर एवं दो अन्य की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नही

एम्स में वरिष्ठ चिकित्सक एवं उनके परिवार के दो सदस्य संक्रमित मिले हैं। चिकित्सक एम्स में सीनियर प्रशासनिक पद पर हैं। उनकी कोई ट्रैवेल हिस्ट्री नहीं है। परिवारीजनों की भी ट्रैवेल हिस्ट्री नहीं है। वह होम आइसोलेशन में हैं। सूचना के बाद स्वास्थ्य विभाग ने संपर्क किया। एम्स प्रशासन उनका नमूना जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए मंगलवार को लखनऊ स्थित केजीएमयू को भेजेगा।
सीएचसी-पीएचसी पर जांच शुरू

प्रदेश में कोरोना के नए वेरिएंट जेएन.1 के मामले मिलने से स्वास्थ्य विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। एम्स, जिला अस्पताल के इमरजेंसी, बीआरडी मेडिकल कालेज समेत सभी सीएचसी-पीएचसी पर एंटीजन जांच शुरू कर दी गई है। सांस व बुखार के रोगियों का रीयल-टाइम पालीमरेज चेन रियेक्शन (आरटी-पीसीआर) जांच के लिए नमूने भी लिए जा रहे हैं। साथ ही जिले में 18 रैपिड रिस्पांस टीमें (आरआरटी) गठित कर दी है। महकमे ने कोविड के लिए दवाओं की किट तैयार करने का निर्देश दे दिया गया है। किट तैयार होते ही सभी आशा कार्यकर्ताओं को 10-10 किट प्रदान की जाएगी।
नए सिरे से तैयार होंगे कोविड वार्ड

कोविड की संक्रमाक लह वर्ष 2021 में आई थी। उसके बाद से कोविड की लहर नहीं आई। तब से अब तक कोविड वार्ड बने अस्पतालों के इंतजाम में कई बदलाव हुए। बीआरडी में बालरोग संस्थान में बालरोग विभाग शुरू हो गया है। सुपर स्पेशियलिटी विंग सक्रिय है। एम्स में ट्रॉमा सेंटर संचालित हैं। सिर्फ टीबी अस्पताल में बेड के सापेक्ष मरीज नगण्य हैं। ऐसे में प्रशासन को सरकारी अस्पतालों में कोविड वार्ड संचालन के लिए नए सिरे से मंथन चल रहा है।
सीएमओ, डॉ. आशुतोष कुमार दूबे ने कहा कि कोरोना का खतरा बढ़ रहा है। इसकी तैयारी शुरू हो गई है। कोविड की जांच शुरू करा दी गई है। आशा कार्यकत्रियों को 10-10 मेडिकल किट दे दी जाएगी।

ट्रेंडिंग वीडियो