scriptgorakhpur news, shahpur police escape the accuse of 307 | 2 माह से हत्या के प्रयास के आरोपी पर मेहरबान शाहपुर पुलिस, SSP के संज्ञान में आते ही एक्टिव हुई | Patrika News

2 माह से हत्या के प्रयास के आरोपी पर मेहरबान शाहपुर पुलिस, SSP के संज्ञान में आते ही एक्टिव हुई

locationगोरखपुरPublished: Dec 01, 2023 10:51:06 pm

Submitted by:

anoop shukla

पीड़ित का आरोप है की रसूख के प्रभाव में विवेचना में देरी और लीपापोती की जा रही हैं। जिसके बाद पीड़ित विवेचना किसी अन्य थाने में स्थानांतरित करवाने की फरियाद लेकर वरिष्ठ पुलिस कार्यालय पहुंचा लेकिन एसएसपी से मुलाकात नहीं हो पाई थी। इसी बीच शुक्रवार को आरोपी एक बार फिर पीड़ित के घर में घुस गया। हालाकि आरोपी द्वारा पीड़ित के घर में घुसने की मनसा सामने नहीं आई है।

2 माह से हत्या के प्रयास के आरोपी पर मेहरबान शाहपुर पुलिस, SSP के संज्ञान में आते ही एक्टिव हुई
2 माह से हत्या के प्रयास के आरोपी पर मेहरबान शाहपुर पुलिस, SSP के संज्ञान में आते ही एक्टिव हुई
गोरखपुर। दो माह पूर्व शाहपुर थानाक्षेत्र में दर्ज हुए एक हत्या के प्रयास के मामले में आरोपी की शाहपुर पुलिस गिरफ्तारी नही कर पाई थी। इतना ही नहीं, बेखौफ अपराधी, मुकदमे के गवाह को गवाही से हटने अथवा जान से मारने की धमकी दे रहा था। शुक्रवार को आरोपी के फिर से पीड़ित के घर घुसने का मामला सामने आया। जिसकी जानकारी SSP डॉ गौरव ग्रोवर को हुई। उन्होंने 24 घंटो में आरोपी की गिरफ्तारी और हिस्ट्रीशीट खोलने के आदेश दिए हैं।
पीड़ित का आरोप , प्रभाव में है शाहपुर थाना

पीड़ित का आरोप है की रसूख के प्रभाव में विवेचना में देरी और लीपापोती की जा रही हैं। जिसके बाद पीड़ित विवेचना किसी अन्य थाने में स्थानांतरित करवाने की फरियाद लेकर वरिष्ठ पुलिस कार्यालय पहुंचा लेकिन एसएसपी से मुलाकात नहीं हो पाई थी। इसी बीच शुक्रवार को आरोपी एक बार फिर पीड़ित के घर में घुस गया। हालाकि आरोपी द्वारा पीड़ित के घर में घुसने की मनसा सामने नहीं आई है।
क्या है मामला

थाना बांसगांव अंतर्गत ग्राम खड़हुआ के रहने वाले वकील मौर्या पुत्र बैजू ने बताया की थाना-शाहपुर क्षेत्र में गोरखपुर-महराजगंज रोड पर पुराने वी मार्ट के सामने पेन्ट्स हार्डवेयर की दुकान पर मुनीम का काम करता है। 19 सितंबर 2023 को करीब 3 बजे दिन में मुन्ना हुसैन पुत्र गुलाम अली एवं अशरफ अली पुत्र जुमेराती बेंत कोठी स्थित आवास पर आए और माँ-बहन की भद्दी-भद्दी गालियां देते हुए जान-माल की धमकी देने लगे। इसी बीच जान से मारने की नियत से अशरफ अली ने अपनी पिस्टल निकाल कर निशाना साधते हुए फायर कर दिया, परन्तु गोली मिस होने की वजह से वकील की जान बच गयी। यह देखते ही अशरफ अली ने बगल में रखे हुए फावड़े को लेकर दौड़ा लिया , मुन्ना हुसैन भी डण्डा लेकर दौड़ा कर पकड़ लिया। इसके बाद जमकर पिटाई की गई जिससे पीड़ित बुरी तरह घायल हो गया।
शाहपुर थाने में पीड़ित ने दर्ज कराया मुकदमा

जिसके बाद वकील मौर्या ने घटना के सम्बन्ध में थाना-शाहपुर पर मुकदमा अपराध संख्या-741/2023 धारा धारा 307, 323, 504, 506, आईपीसी दिनांक 02.10.2023 को करवाया। घटना के लगभग दो माह गुजरने के बाद भी थाना शाहपुर आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। आरोपी अशरफ पर गोरखपुर और लखनऊ में कुल 5 मुकदमे पहले से दर्ज है।
शुक्रवार को जब यह मामला SSP के संज्ञान में आया तो उन्होंने सख्त रुख अख्तियार करते हुए 24 घंटो में आरोपी की गिरफ्तारी और हिस्ट्रीशीट खोलने के आदेश दिए हैं। एसएसपी के आदेश के बाद शाहपुर थाना प्रभारी शशिभूषण राय ने आनन फानन में दोनो पक्षों का 151 में चालान कर दिया।

ट्रेंडिंग वीडियो