सुंदर भाटी गैंग के कुख्यात सतवीर बंसल को यूपी STF ने दबोचा, हैरान करने वाली है इनकी कारिस्तानियां

  • ट्रांसपोर्ट का जबरन ठेका हासिल करने और विवादित संपत्तियों को खरीद-फरोख्त कर कब्जा करने का है आरोप
  • जेल में बंद सुंदर भाटी के लिए वसूली करने का है आरोप

 

नोएडा. जेल में बंद गैंगस्टर सुंदर भाटी और उसके साथियों ने कई कंपनियों के प्रबंधकों को डरा धमका कर उनसे रंगदारी वसूलने, ट्रांसपोर्ट का जबरन ठेका हासिल करने के मामले की जांच यूपी एसटीएफ की नोएडा यूनिट को उस समय एक बड़ी सफलता मिली, जब उन्होंने सुंदर भाटी गैंग के सदस्य और वांछित चल रहे आरोपी सतवीर बंसल को घंघोला के पास से गिरफ्तार किया है । यूपी एसटीसी ने यह गिरफ्तारी थाना site-5 पुलिस के सहयोग से किया है।

यह भी पढ़ें: ऑपरेशन सहारा' के तहत होगा बुजुर्ग व्यक्तिओं की समस्याओं का समाधान

एसटीएफ की गिरफ्त में खड़ा यह आरोपी सतबीर बंसल है। सतबीर पर आरोप है कि वह एक संगठित गिरोह बनाकर, कुख्यात सुंदर भाटी की मदद से कंपनियों में ट्रांसपोर्ट का ठेका हासिल करता था। इसके अलावा वह विवादित संपत्तियों को खरीद-फरोख्त कर उन्हें अपने नाम कर लेता था। इसका सीधा लाभ जेल में बंद सुंदर भाटी को मिलता था। जो जेल में बंद होने के वावजूद जेल से अपनी आपराधिक गतिविधियां संचालित कर रहा है। यूपी एसटीएफ़ के सीओ ने बताया की सतवीर पर इसी प्रकार के एक केस में थाना इकोटेक में मुकदमा चल रहा है। इसमें वह वांछित चल रहा है।

यह भी पढ़ें: स्याना हिंसा की बरसी पर आरोपी लोकेंद्र को कोर्ट ने दिया बड़ा झटका

इससे पहले भी नोएडा पुलिस ने सुंदर भाटी गैंग की ओर से चलाए जा रहे रंगदारी और जबरन ठेकेदारी हासिल करने के कई मामलों का खुलासा करते हुए उसके भतीजे अनिल भाटी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। इसमें 3 सदस्य फरार बताए जा रहे हैं, इसलिए यूपी-एसटीएफ़ के सतबीर बंसल की गिरफ्तारी से सुंदर भाटी गैंग पर झटका लगा है और शिकंजा और कड़ा हुआ है। इस दौरान कुछ अफसरों, कर्मियों, नेता उन लोगों के नाम भी प्रकाश में आए थे जो सुंदर भाटी को परोक्ष रूप से सहयोग देते है और इस एवज में गिरोह से उन्हें मोटी रकम मिलती है। पुलिस ऐसे सभी लोगों को चिन्हित कर उन पर कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है।

Iftekhar
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned