Turkey ने Iraq में किया Drone Attack, हमले में दो इराकी शीर्ष सैन्य अफसर की मौत

HIGHLIGHTS

  • तुर्की ( Turkey ) ने इराक पर ड्रोन अटैक ( Drone Attack ) किया, जिसमें इराक के दो शीर्ष सैन्य अफसर मारे गए।
  • इराकी सेना ( Iraqi Army ) ने कहा कि ड्रोन हमले के वक्त बॉर्डर गा‌र्ड्स ( Border Guards ) के शीर्ष अधिकारी कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी ( PKK ) के सदस्यों के साथ बैठक कर रहे थे।

By: Anil Kumar

Updated: 13 Aug 2020, 08:45 AM IST

बगदाद। इराक ( Iraq ) में कुर्द विद्रोहियों के खिलाफ लगातार अभियान चला रही है लेकिन अब ड्रोन हमले ( Drone Attack ) में इराक के दो शीर्ष सैन्य कमांडर मारे जाने के बाद तुर्की और इराक के बीच तलवारें खिंच गई हैं। इस हमले के बाद तुर्की के रक्षा मंत्री ( Turkish Defense Minister ) की बृहस्पतिवार को होने वाली यात्रा को इराक ने रद्द कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्की ने यह हमला मंगलवार को इराक के उत्तरी सीमावर्ती क्षेत्र ब्रैडोस्ट में किया। इराकी सेना ने कहा कि ड्रोन हमले के वक्त बॉर्डर गा‌र्ड्स के शीर्ष अधिकारी कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी ( PKK ) के सदस्यों के साथ बैठक कर रहे थे।

Article 370 पर Turkey ने की टिप्पणी तो India ने दी चेतावनी, कहा- हमारे आंतरिक मामले पर दखल न दें

इसी दौरान यह तुर्की ने ड्रोन हमले को अंजाम दिया। इस हमले में पांच अन्य लोग भी मारे गए हैं। इस ड्रोन हमले के बाद इराक ने तुर्की को कड़ी चेतावनी दी है। इराक ने इसे अपनी संप्रभुता ( Sovereignty ) पर हमला करार दिया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब इराक के उत्तरी हिस्से में कुर्द विद्रोहियों को खत्म करनेवाले तुर्की के अभियान में इराक के उच्च सुरक्षा अधिकारी मारे गए हैं।

इराक ने तुर्की को दी चेतावनी

इराक की सेना के बयान के मुताबिक, इरबिल के उत्तरी हिस्से के ब्रैडोस्ट क्षेत्र ( Braddost Region ) में ड्रोन ने बॉर्डर गार्ड्स के एक वाहन को निशाना बनाया। इस हमले में दो कमांडर और वाहन के चालक की मौत हो गई। ब्राडोस्ट के मेयर ने बताया कि बॉर्डर गार्ड्स के दूसरे ब्रिगेड के कमांडर जनरल मोहम्मद रूश्दी और तीसरे रेजिमेंट के कमांडर ब्रिगेडियर जुबैर हाली की इहसान चेलेबी में हमले में मौत हो गई।

Turkey: President Erdogan ने लागू किया नया Social Media कानून, देशभर में छिड़ी बहस

इराक के विदेश मंत्रालय ( Iraq Foreign Ministry ) की ओर से एक बयान जारी किया गया है। बयान में हमले की निंदा की गई और कहा गया कि इस तरह के लगातार हमले द्विपक्षीय संबंधों की ‘समीक्षा’ करने के लिए उकसाया जा रहा है।

बता दें कि तुर्की PKK को आतंकवादी संगठन मानता है और उसने कई अभियानों में उत्तरी इराक में इनके ठिकानों के ऊपर बमबारी की है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned