संयुक्त अरब अमीरात ने गोल्डन वीजा का किया ऐलान, पेशवरों को मिलेगी खास अहमियत

Highlights

  • प्रतिभाशाली लोगों को खाड़ी देश में बसाने की योजना है।
  • 10 वर्षीय गोल्डन वीजा जारी करने के फैसले को मंजूरी दी है।

By: Mohit Saxena

Updated: 16 Nov 2020, 03:57 AM IST

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने रविवार को जानकारी देते हुए कहा कि उसने और अधिक पेशेवरों को दस साल तक का गोल्डन वीजा जारी करने की मंजूरी दे दी है। इसमें पीएचडी डिग्रीधारक, चिकित्सक, इंजीनियर और विश्वविद्यालयों के कुछ खास स्नातक शामिल हैं।

Donald Trump ने पहली बार माना राष्ट्रपति चुनाव में बाइडन की हुई जीत

प्रतिभाशाली लोगों को खाड़ी देश में बसाने और राष्ट्र निर्माण को लेकर सरकार ने ये फैसला लिया है। देश ने ऐसे लोगों के लिए गोल्डन वीजा जारी कर रही है। यूएई के उपराष्ट्रपति,पीएम और दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने ट्वीट कर ये ऐलान किया है।

ट्वीट के अनुसार अब से इन श्रेणियों में प्रवासियों के लिए 10 वर्षीय गोल्डन वीजा जारी करने के फैसले को मंजूरी दी है। इन श्रेणियों में पीएचडी डिग्रीधारक, चिकित्सक,कंप्यूटर इजीनियरिंग इलेक्ट्रॉनिक्स, प्रोग्रामिंग, बिजली और जैव प्रौद्योगिकी,यूएई द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों के स्नातक है। इनका जीपीए (ग्रेड प्वाइंट एवरेज) 3.8 या उससे अधिक होना चाहिए।

Coronavirus: फाइजर और बायोटेक का दावा, वैक्सीन से महामारी का होगा खात्मा

इस संबंध में मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गोल्डन वीजा विशेष डिग्रीधारकों को भी दिया जाएगा। इसमें कृत्रिम बुद्धिमत्ता और महामारी विज्ञान जैसे क्षेत्रों के विशेषज्ञ शामिल हैं। गौरतलब है कि इस निर्णय को यूएई के मंत्रिपरिषद की ओर से भी मंजूरी मिल चुकी है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned