ब्रांडेड कंपनी का टैग लगाकर बेच रहे थे लोकल कॉस्मेटिक का सामान, 10 लाख का माल जब्त

लैक्मे कंपनी का ब्रांड टैग लगाकर बेच रहे थे नकली आई लाइनर, फेस पाउडर और सन्स क्रीम...कस्टमर से वसूलते थे ब्रांड के पैसे...

By: Shailendra Sharma

Published: 12 Sep 2021, 05:42 PM IST

ग्वालियर. अगर आप भी महंगे ब्रांडेड कंपनी के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट उपयोग करते हैं तो जरा सावधान रहें क्योंकि ऐसा न हो कि आप पैसे तो ब्रांडेड प्रोडक्ट के दे रहे हों लेकिन प्रोडक्ट लोकल खरीद रहे हों। दरअसल ब्रांडेड कंपनी के नाम पर नकली प्रोडक्ट बेचने का एक बड़ा खेल ग्वालियर में सामने आया है। जहां लैक्मे कंपनी का टैग लगाकर नकली प्रोडक्ट मार्केट में बेचे जा रहे थे। कंपनी की शिकायत पर पुलिस ने शनिवार को शहर की एक बड़ी कॉस्मेटिक दुकान पर छापेमारी की जहां से करीब 10 लाख रुपए का नकली माल बरामद हुआ है जो कंपनी के टैग लगाकर ग्राहकों को बेचा जा रहा था।

 

कंपनी की कीमत पर रास्ते का सामान
दरअसल हिन्दुस्तान लीवर कंपनी के अधिकारियों ने ग्वालियर एसपी से शिकायत की थी कि शहर में उनकी कंपनी के नाम पर बड़ी मात्रा में नकली प्रोडक्ट बेचे जा रहे हैं। इसी आधार पर पुलिस ने शनिवार की रात चिटनिस की गोठ में गुलाब मार्केट स्थित हर्ष ट्रेडर्स नाम की कॉस्मेटिक की दुकान पर छापेमारी की। दुकान पर हुई छापेमारी के दौरान लैक्मे ब्रांड के कई डुप्लीकेट प्रोडक्ट जिनमें आई लाइनर, लिपिस्टिक, नेल पॉलिश, क्रीम, पाउडर आदि जब्त किए गए हैं। दुकान से जब्त किए गए माल की कीमत करीब 10 लाख रुपए बताई जा रही है। पुलिस ने दुकान के मालिक को भी हिरासत में ले लिया है और उसके खिलाफ कॉपीराइट एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।

 

ये भी पढ़ें- युवक का दावा- प्रेत आत्मा आई और उठाकर ले गई, खेत में ले जाकर जहर पिलाया

 

 

लंबे समय से मिल रही थी शिकायत
हिंदुस्तान लीवर कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि लंबे समय से ग्वालियर शहर में कंपनी के नाम पर कॉस्मेटिक के नकली सामान बेचने की शिकायत मिल रही थी। कंपनी ने अपने स्तर पर जांच की तो शिकायत सही पाई गई। जिसके बाद एसपी से मामले की शिकायत की गई तो उन्होंने तुरंत कोतवाली थाने को कार्रवाई के निर्देश दिए जिसके बाद इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। उन्होंने ये भी बताया कि जो नकली प्रोडक्ट दुकान से बरामद हुए हैं वो महिलाओं के लिए हानिकारक हैं।

देखें वीडियो- बाइक पर प्रेमी युगल ने पार की हदें

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned