scriptPolice interrogated a suspect along with her husband, the court called | पुलिस का तक पति के साथ एक संदिग्ध से की है पूछताछ, कोर्ट ने थाना प्रभारी सहित जांच अधिकारी को बुलाया | Patrika News

पुलिस का तक पति के साथ एक संदिग्ध से की है पूछताछ, कोर्ट ने थाना प्रभारी सहित जांच अधिकारी को बुलाया

locationग्वालियरPublished: Dec 19, 2023 11:27:32 am

Submitted by:

Balbir Rawat

बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका की कल फिर से होगी सुनवाई

पुलिस का तक पति के साथ एक संदिग्ध से की है पूछताछ, कोर्ट ने थाना प्रभारी सहित जांच अधिकारी को बुलाया
पुलिस का तक पति के साथ एक संदिग्ध से की है पूछताछ, कोर्ट ने थाना प्रभारी सहित जांच अधिकारी को बुलाया
हाईकोर्ट की युगल पीठ ने सोमवार को सबलगढ से गायब हुई सोनम के मामले की सुनवाई की। सबलगढ़ थाना पुलिस ने बताया कि पति के साथ-साथ एक और संदिग्ध से पूछताछ की है। कोर्ट ने थाना प्रभारी के साथ-साथ केस की जांच अधिकारी को भी बुलाया है। 20 दिसंबर को याचिका में फिर से सुनवाई होगी।
बृजमोहन शुक्ला ने हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की है। याचिका में तर्क दिया कि उनकी बेटी का विवाह छह साल पहले भानू प्रकाश से हुआ था। 18 सितंबर 2023 को सोनम पति के साथ मायके पहुंची थी। सोनम के साथ 19 सितंबर को मारपीट की गई। 20 सितंबर को पति सोनम को अपने साथ मोटर साइकिल पर लेकर गया था। इससे बाद से सोनम लापता है। पति ने ही थाने में सोनम की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस की ओर से कोर्ट में बताया कि पति से पूछताछ की, लेकिन उससे कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। कोर्ट ने पुलिस को आदेश दिया था कि महिला संदेहास्पद स्थिति में गायब हुई है। इस मामले में उसके पति से भी कड़ाई से पूछताछ होना चाहिए। क्योंकि उसे पति भानू प्रकाश शर्मा के साथ आखिरी बार देखा गया था। कोर्ट ने थाना प्रभारी को फटकार लगाते हुए कहा कि हर हाल में सोनम को न्यायालय में पेश किया जाए। पुलिस ने पति व एक संदिग्ध से पूछताछ की जानकारी दी। याचिकाकर्ता ने भी कुछ तथ्य पेश करने के लिए समय चाहा। इसके चलते कोर्ट ने 20 दिसंबर तक का समय दे दिया।
नाबालिग ने दादी के साथ जाने से किया मना, वन स्टॉप सेंटर सेंटर

हाईकोर्ट की युगल पीठ ने सोमवार को एक नाबालिग को मुरैना के वन स्टॉप सेंटर भेज दिया। उसने अपनी दादी के साथ जाने से मना कर दिया। नाबालिग ने कोर्ट में कहा कि वह उसके साथ जाना चाहती है, जिसके साथ विवाह किया है। दरअसल दादी ने यह कहते हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की कि उसी नातिन को जितेंद्र व सत्यवीर ने बंधक बना लिया है। मुरैना के पुलिस थाना महुआ में शिकायत की, लेकिन पुलिस ने शिकायत के बाद कोई कार्रवाई नहीं की। कोर्ट के नोटिस के बाद पुलिस ने नाबालिग बरामद कर लिया। न्यायालय के सामने पेश किया, लेकिन उसने दादी के साथ जाने से मना कर दिया।

ट्रेंडिंग वीडियो