रात में सडकों पर उतारी पुलिस, कोरोना की चेकिंग

कोरोना के बढ रहे मरीजों का ग्राफ पुलिस और प्रशासन के लिए चिंता का सबब बन रहा है।

लोग सुरक्षा के नियम मानने को तैयार नहीं दिख रहे हैं।

By: Puneet Shriwastav

Published: 29 Nov 2020, 01:44 AM IST

ग्वालियर। कोरोना के बढ रहे मरीजों का ग्राफ पुलिस और प्रशासन के लिए चिंता का सबब बन रहा है। लोग सुरक्षा के नियम मानने को तैयार नहीं दिख रहे हैं। बाजारों में बेतहाशा भीड को सोशल डिस्टेसिंग और मास्क का पालन कैसे कराया जाए पुलिस की समझ में नहीं आ रहा है।

रात 8 बजे कफर्यू है उसके बावजूद लोग घर से निकलने से नहीं चूक रहे हैँ। रात में बिना वजह तफरी करने वालों पर लगाम कसने के लिए एसपी अमित सांघी ने शनिवार को सभी थाना प्रभारियों को हिदायत दी कि वह अपनी निगरानी में सडको ंपर चेकिंग लगवाएंगे।

उधर शनिवार को प्रशासन की उच्च स्तरीय बैठक भी हुई है। उसमें कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करने वालों को खुली जेल में बंद करने और शदियों में मेहमानों की गिनती सीमित करने पर मंथन हुआ है। हालांकि इस पर कितना अमल होगा यह क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में तय होगा।
रात को सडकों पर बेरीकेडस लगाकर चेकिंग
रात १०:३० बजे से पुलिस सडकों पर उतर आई। जो लोग घर से बाहर दिखे उनसे सडक पर आने की वजह पूछी। जो मजबूरी में निकले थे उन्हें जाने दिया, लेकिन जो सिर्फ तफरी के लिए आए थे।

उन्हें पुलिस ने रोक लिया। चालान काटकर थमाए। इस दौरान दो पहिया के अलावा चार पहिया वाहनों में बैठे लोगों को भी रोककर यह चैक किया गया कि इन लोगों ने मास्क लगाए है या नहीं।

Puneet Shriwastav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned