हाथरस केसः सीबीआई ने पाया पीड़िता व आरोपी जानते थे एक दूसरे को, 105 बार हुई थी कॉल

- पीड़िता के व्यवहार से निराश हो गया था मुख्य आरोपी

By: Abhishek Gupta

Published: 22 Dec 2020, 08:20 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क.
हाथरस. हाथरस कांड में सीबीआई की चार्जशीट में नया खुलासा हुआ है। दायर चार्जशीट में दावा किया गया है कि पीड़िता व मुख्य आरोपी के बीच संबंध थे। वह एक दूसरे को पहले से ही जानते थे, लेकिन बाद में बातचीत कम होने व संदेह के कारण आरोपियों ने दुष्कर्म व हत्या की वारदात को अंजाम दे डाला। एक न्यूज एजेंसी ने सीबीआई द्वारा अदालत में दायर चार्जशीट के कुछ अंश देखे हैं। उसमें सीबीआई ने यह दावा किया है कि आरोपी और पीड़िता का 2 या 3 साल पहले परिचय हुआ था, जो धीरे-धीरे ‘प्रेम संबंध’ में बदल गया। बाद में मुख्य आरोपी पीड़िता द्वारा उसे नजरअंदाज किए जाने से निराश हो गया था।

ये भी पढ़ें- यूपी में 120 नई गौशाला खोलने की तैयारियां, गौसेवकों की भी होगी नियुक्ति, जिलाधिकारियों से मांगा गया प्रस्ताव

कॉल रिकॉर्डिंग से हुआ था खुलासा-
सीबीआई ने बताया कि कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) द्वारा दोनों पक्षों की कॉल डिटेल को खंगाला जिसमें पाया गया कि बीते वर्ष 17 अक्टूबर से इस वर्ष 3 मार्च के बीच दोनों ने 105 बार कॉल की। इसमें आरोपी ने पीड़िता के परिवार को 39 कॉल किए तो पीड़िता के परिवार ने संदीप को 66 कॉल किए। हालांकि बातचीत या मुलाकात करने की बात से पीड़िता के परिवार के सदस्यों ने साफ इंकार किया है। सीबीआई ने जांच के दौरान यह भी पाया कि दोनों अलग-थलग स्थानों पर मिलते थे। कई गवाहों ने यह भी बताया कि संदीप के 3 मोबाइल नंबर थे, जिसके जरिए वे संपंर्क में रहते थे।

ये भी पढ़ें- RPL योजना का लाभ उठाइए, मिलेगा स्किल प्रमाण पत्र, सरकारी नौकरियों के लिए होगा मान्य

आरोपी के घर के बाहर हुआ था झगड़ा-
सीबीआई ने चार्जशीट में बताया कि मार्च में दोनों के रिश्ते बिगड़ गए, जिसके बाद दोनों में संपर्क खत्म हो गया। गवाहों का यह भी कहना है कि पीड़िता के परिवार को दोनों के रिश्ते के बारे में पता चल गया था। आरोपी के घर के बाद पीड़िता के परिवार ने आरोपी से झगड़ा भी किया था। इसी के बाद दोनों में संपर्क होना बंद हो गया था। मुख्य आरोपी के मित्र ने दोनों को मिलवाने का प्रयास भी किया और इस दरमिया पीड़ियो का चार बार कॉल की गई, लेकिन पीड़िता ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। इसी बदले हुए व्यवहार व अनदेखी से आरोपीनिराश हो गया। उसे यह भी संदेह हुआ कि लड़की का उसकी बहन के पति या उसके भाई के साथ संबंध है। सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में उनके संबंधों में इस बदलाव की स्थिति को आरोपी के आक्रामक रवैये की वजह करार दिया है।

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned