ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि चन्द्रशेखर रावण को रिहा क्यों किया, देखें वीडियो

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि चन्द्रशेखर रावण को रिहा क्यों किया, देखें वीडियो

Amit Sharma | Publish: Sep, 16 2018 09:37:38 AM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 09:37:39 AM (IST) Hathras, Uttar Pradesh, India

दाऊजी मेले का उद्घाटन, सभी प्रमुख मंदिरों का विश्वस्तरीय विकास

हाथरस। ब्रज क्षेत्र के 107वें लक्खी मेला श्री दाऊजी महाराज का प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने उद्घाटन किया। उन्होंने फीता काट, आसमान में शांति के प्रतीक गुब्बारे और कबूतर उड़ाए। इस मौके पर पीएसी के जवानों ने वंदे मातरम की मधुर धुन बजाई। मुख्य द्वार पर उद्घाटन करने के बाद ऊर्जा मंत्री ऐतिहासिक दाऊजी मंदिर गए और पूजा अर्चना की। उसके बाद मेले के ऋषिवर कैम्प का भी उद्घाटन किया। मेले में चलने वाले दंगल का शुभारम्भ किया। श्रीकांत शर्मा के साथ भाजपा सदर विधायक हरिशंकर माहौर, भाजपा जिलाध्यक्ष गौरव आर्य सहित परा जिला प्रशासन मौजूद रहा। इस मौके पर ऊर्जा मंत्री ने यह भी बताया कि भीम आर्मी के अध्यक्ष चन्द्रशेखर रावण को यूपी सरकार ने जेल से रिहा क्यों किया?

यह भी पढ़ें

आज का राशिफलः मीन समेत तीन राशि वालों के लिए सबसे अच्छा दिन, जानिए कैसा है आपका भाग्य

तीर्थ स्थानों का रखरखाव होगा बेहतर

उद्घाटन के बाद पत्रकारों से वार्ता कर सबसे पहले भगवान के भक्तों को मेले की बधाई दी। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश की सरकार और केंद्र की सरकार पवित्र मंदिर और तीर्थ स्थलों के चहुंमुखी विकास के लिए संकल्पित है। हमारी जो धरोहर हैं, उनका रखरखाव ठीक से हो, हम सब भारतीय परम्पराओं को आगे बढ़ाएं। सबका साथ सबका विकास हमारी सरकार की प्राथमिकता है। हमारे जो पवित्र तीर्थस्थल हैं, उन्हें विश्व स्तर पर विकसित कर रहे हैं। हम सौभाग्यशाली हैं कि भगवान कृष्ण की जन्मभूमि, बड़े भैया दाऊ बाबा की जन्म भूमि हमारे यहां हैं। मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम की जन्म स्थली हमारे यहां है। बाबा विश्वनाथ हमारे यहां विराजमान हैं। इन सभी पवित्र तीर्थ स्थानों का रखरखाव बेहतर से बेहतर करने का हमारी सरकार प्रयास कर रही है।

यह भी पढ़ें

मंदिर पर ताला लगाने गई किशोरी का कर लिया गया अपहरण, अभी तक नहीं लगा सुराग

मानवीय आधार पर चंद्रशेखर को किया रिहा

भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर रावण को रिहा करने के सवाल पर कहा कि चंद्रशेखर की माता जी बीमार हैं। मानवीय आधार पर चंद्रशेखर को सरकार ने रिहा किया। उस समय प्रदेश में हिंसा हो रही थी और हमारी सरकार के खिलाफ षड्यंत्र हो रहा था। अब आम जनता के सहयोग से शांति है। हमने इसलिए उनको रिहा किया है। आलोचना हमारी सरकार और हमको स्वीकार है लेकिन प्रदेश के सद्भाव को बिगाड़ने का प्रयास कोई करेगा, जाति भेदभाव करने का प्रयास करेगा तो सरकार सख्ती से निपटेगी।

यह भी पढ़ें

डिप्टी सीएम थे शहर में उधऱ प्रधानाध्यपक ले रहा थी रिश्वत, देखें वीडियो

 

 

Ad Block is Banned