बीएमओ की क्लिनिक पर लोकायुक्त छापा, दस हजार रिश्वत लेते कर्मचारी पकड़ाया


Big Action against Corruption
एएनएम का वेतन निकालने के लिए दस हजार रुपये रिश्वत मांगी गई

होशंगाबाद। बीएमओ की क्लिनिक पर लोकायुक्त की टीम ने छापेमारी की है। टीम ने एक कर्मचारी को रंगेहाथ रिश्वत लेते हुए पकड़ा भी है। लोकायुक्त छापे से स्वास्थ्य महकमा में हड़कंप मचा हुआ है। रिश्वत मांगने पर शिकायत मिलने के बाद यह कार्रवाई हुई है। आरोप है कि एक एएनएम का वेतन निकालने के लिए रिश्वत मांगी गई थी।

Read this also: कंटेनमेंट एरिया की बैरिकेडिंग हटवा पहुंचे पूर्व मंत्री, सील एरिया में नियम ताक पर रख 'नेताजी' ने की बैठक

प्राप्त जानकारी के अनुसार बाबई स्वास्थ्य केंद्र की बीएमओ डाॅ.शोभना चैकसे हैं। एक एएनएम ने आरोप लगाया था कि वेतन निकालने के लिए दस हजार रुपये की रिश्वत मांगी गई लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हो रही थी।
थक हारकर एएनएन ने लोकायुक्त में संपर्क किया। शिकायत मिलने के बाद एक टीम का गठन किया गया। शनिवार को लोकायुक्त की 12 सदस्यीय टीम ने डीएसपी वीके परिहार की अगुवाई में बाबई स्वास्थ्य केंद्र बीएमओ की क्लिनिक के पास जाल बिछाया। एएनएम रिश्वत की रकम लेकर वहां पहुंची। बीएमओ का कर्मचारी मिलन को रिश्वत की रकम लेते हुए टीम ने पकड़ लिया।
इस कार्रवाई के बाद विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। टीम इस प्रकरण में कार्यवाही कर रही है।

Read this also: उपचुनाव के पहले बीजेपी में घमासानः पूर्व मंत्री बोले, भाजपा में जो भितरघात करता वह आगे बढ़ता

धीरेन्द्र विक्रमादित्य
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned