दिल्ली में टुटा सबका रिकॉर्ड, एक ट्रक का 1 लाख 41 हजार 700 रुपए का चालान कटा

नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद अब तक की सबसे बड़ी चालान दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में काटा गया है।
जो 1 लाख 41 हजार 700 रुपये का चालान है।

By: Shaitan Prajapat

Published: 16 Dec 2020, 10:22 AM IST

नई दिल्ली। न्यू मोटर व्हीकल एक्ट लागू होते ही इसके चालान काफी चर्चा में है। इसके साथ ही चालान की जुर्माने की राशि की भारी भरकम हो गई है। रोजाना चालान की खबरे हमे पढ़ने को मिलती है। कही बार भारी भरकम चालान की राशि चुकानी पड़ती है। कई बार चालान की ज्यादा राशि होने के कारण लोग अपने वाहनों को भी आग के हवाले कर देते है। आज आपको राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अब तक सबसे बड़े चालान के बारे में बताने जा रहे है। चालान की कुल राशि 1 लाख 41 हजार 700 रुपए है। हालांकि यह मामला पुराना है।

1 लाख 41 हजार 700 रुपए का चालान
नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद अब तक की सबसे बड़ी चालान दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में काटा गया है। जो 1 लाख 41 हजार 700 रुपए का चालान है। राजस्थान के एक ट्रक में ज्यादा माल होने के बाद 1 लाख 41 हजार 700 रुपए का चालान काटा गया है। वहीं राजस्थान के ट्रक मालिक ने दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में चालान की पूरी रकम जमा कर दी। ट्रक मालिक राजस्थान के बीकानेर का रहने वाला है।

ओवरलोडिंग भी है वजह
ट्रक मालिक का कहना है कि दिल्ली में 5 सितंबर को ओवरलोडिंग होने की वजह से 70 हजार रुपये का चालान काटा गया। वहीं ट्रक में ज्यादा माल लादने पर उसके मालिक पर भी 70 हजार का और चालान किया गया। ट्रक मालिक का कहना है कि इसके अतिरिक्‍क लगभग 1700 रुपये का चालान और किया गया था। चालान की कुल राशि 1 लाख 41 हजार 700 रुपये है। 9 सितंबर को उन्होंने चालान की रकम का भुगतान रोहिणी कोर्ट में कर दिया है।

यह भी पढ़े :— मां-बेटी एक ही मंडप में दुल्हन बनी, एक साथ रचाई शादी, जानें पूरा मामला

अजीबोगरीब मामले आ रहे है सामने
आपको बता दें कि बीते देश में नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद एक के बाद एक अजोबोगरीब मामला समाने आ रहा है। अभी तक यह खबर आ रही थी कि किसी का 15 हजार रुपए का चालान तो किसी का 25 हजार का तो किसी को 60 हजार रुपए तक चालान कटा। कोई ट्रैफिक पुलिस से झगड़ता दिख रहा है तो कोई भारी-भरकम चालान की राशि की वजह से अपनी गाड़ी को आग के हवाले कर दे रहा है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned