scriptRajasthan Legislative Assembly Election | प्रत्याशियों के समर्थकों ने दिए थे पीले चावल, की थी मतदान की मनुहार | Patrika News

प्रत्याशियों के समर्थकों ने दिए थे पीले चावल, की थी मतदान की मनुहार

locationहुबलीPublished: Nov 24, 2023 06:50:27 pm

बेलगावी से विशेष रेल से प्रवासी राजस्थान रवाना
विधानसभा चुनाव में लेंगे हिस्सा

बेलगावी

Rajasthan Legislative Assembly Election
Rajasthan Legislative Assembly Election
बेलगावी से बड़ी संख्या में प्रवासी विशेष ट्रेन से राजस्थान के लिए रवाना हुए हैं। बेलगावी के साथ ही हुब्बल्ली, धारवाड़ समेत अन्य शहरों से भी प्रवासी लोकतंत्र के उत्सव में शरीक होने के लिए राजस्थान गए हैं। राजस्थान में 25 नवम्बर को विधानसभा चुनाव है। कई प्रवासियों के नाम राजस्थान की मतदाता सूची हैं। ऐसे में वे अपने विधानसभा क्षेत्र में मतदान करेंगे।
बेलगावी प्रवासी नरपतसिंह राजपुरोहित ने बताया कि उनका गांव सांकरणा हैं जो राजस्थान के आहोर विधानसभा क्षेत्र में आता है। बेलगावी में आहोर विधानसभा क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में निवास कर रहे हैं। आहोर के साथ ही जालोर, भीनमाल, रानीवाड़ा, सांचौर, पाली, सुमेरपुर, बाली, मारवाड़ जंक्शन, सिवाना, पचपदरा विधानसभा क्षेत्रों के प्रवासी भी राजस्थान गए हैं। कई प्रवासी पहले ही राजस्थान जा चुके हैं। वे अपने विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार में भी सहभागी बने हैं। अधिकांश प्रवासी विशेष ट्रेन से राजस्थान गए हैं। कई प्रवासियों ने पहले से ही टिकट बुक करा दिए थे। बेलगावी में रह रहे राजस्थान के थांवला मूल के विक्रमसिंह राजपुरोहित ने बताया कि इस बार राजस्थान के विधानसभा चुनाव को लेकर लोगों में अधिक उत्साह है। कई प्रत्याशियों के भी प्रवासियों के पास फोन आए हैं। प्रत्याशियों के कई समर्थक भी प्रवासियों से मिलकर गए हैं और पीले चावल देकर गए हैं। अब उस मनुहार को मानते हुए प्रवासी मतदान करने के लिए राजस्थान गए हैं।
मतदान तिथि के आसपास ही विवाह समारोह
जालोर जिले के बाकरा गांव के गोपाराम प्रजापत कहते हैं, हर चुनाव के समय प्रवासी राजस्थान जाकर अपने मताधिकार का उपयोग करते रहे हैं। इस बार चुनाव के साथ ही इसके आसपास की तिथियों पर ही कई विवाह समारोह भी है। ऐसे में प्रवासी इस बार अधिक गए हैं। प्रवासियों का राजस्थान से लगाव अधिक है। वैसे भी प्रवासी साल में तीन से चार बार राजस्थान जाते हैं। बागौड़ा के भैराराम प्रजापत कहते हैं, इस बार राजस्थान में चुनाव में कांटे की टक्कर है। ऐसे में प्रत्याशी भी प्रवासियों को अधिक तवज्जो दे रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो