कोरोना के बाद अधिक एंटीबॉडी से बच्चों में पड़ रहा बुरा प्रभाव


एमआइएस-सी से बच्चों को बढ़ा खतरा.....

By: Ashtha Awasthi

Published: 11 Jun 2021, 04:06 PM IST

इंदौर। कोरोना के बाद बच्चों में सामने आ रही एमआइएस- सी बीमारी के कारण उनकी जान पर भी बन सकती है। बच्चों के कोरोना पॉजिटिव होने के छह से आठ सप्ताह बाद एमआइएस-सी की बीमारी हो रही है। नई बीमारी होने के कारण इसके बारे में सटीक जानकारी अभी तक नहीं है।

कोरोना पॉजिटिव होने वाले बच्चों में से करीब एक फीसदी इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। वहीं जिन बच्चों को ये बीमारी हो रही हैं, उन्हें यदि समय पर इलाज न मिले तो उनमें से एक फीसदी बच्चों की जान पर भी बन सकती है।

MUST READ: फायदेमंद वैक्सीन: टीके के बाद भी लोगों को हो रहा कोरोना संक्रमण, लेकिन जान को खतरा नहीं

gettyimages-1248882404-170667a.jpg

मेडिकल कॉलेज के शिशु रोग विभागाध्यक्ष डॉ. हेमंत जैन के मुताबिक इस बीमारी के बारे में जो जानकारी सामने आई है, उसके मुताबिक कोरोना होने पर ज्यादातर बच्चों में लक्षण नहीं आते हैं। बीमारी के बाद उनके शरीर में एंटी बॉडी बहुत ज्यादा बन जाती है। इस वजह से शरीर के विभिन्न अंग प्रभावित होने लगते हैं।

इसी कारण बच्चों को दौरे पड़ने, हार्ट व किडनी से संबंधित समस्याएं आने लगती हैं। इस बीमारी से जूझ रहे बच्चों का सही समय पर इलाज न होने पर उनके दिल की नाड़िया ढीली हो जाती हैं और रक्त संचार प्रभावित होने से मौत का कारण बन सकती है। इसके चलते बच्चे में कोरोना ठीक होने के बाद भी ध्यान देना जरूरी है।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned