दिल्ली से इंदौर आई ट्रेन तो क्या हुआ बारातियों को...

amit mandloi

Publish: Nov, 14 2017 08:42:48 PM (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
दिल्ली से इंदौर आई ट्रेन तो क्या हुआ बारातियों को...

ट्रेन से उतरकर पहुंचे थाने, १३ हजार का बना चालान भी बन गया

इंदौर.

दिल्ली से इंटरसिटी ट्रेन से सवार होकर इंदौर पहुंचने वाले बारातियों का बैग सफर के दौरान चोरी हो गया। बैग में सभी बरातियों के टिकट व नकदी थे। सफर की शुरुआती जांच में टीटी ने सभी को केस दर्ज करवाने की बात कहकर छोड़ दिया, लेकिन कुछ घंटे बाद बदली में आए टीटी ने मूल टिकट मांगा। टिकट नहीं देने पर १३ हजार रुपए चालान काट दिया। परेशान बारातियों ने थाने पहुंचकर केस दर्ज करवाया।

जीआरपी के मुताबिक, फरियादी कृष्णमोहन निवासी त्रिलोकपुरी, दिल्ली १२ नवंबर को छोटे भाई दीपक की बारात दिल्ली से इंदौर लेकर आए थे। उन्होंने बताया, रात १० बजे नई दिल्ली स्टेशन से बारात में करीब ६२ लोग शामिल हुए। सफर के एक घंटे बाद कोच एस-९ में बैठे सभी बारातियों के टिकट चेक करने के लिए टीटी पहुंचे थे। सभी के टिकट एक बैग में रखे थे। जब वे टिकट लेने पहुंचे तो बैग गायब मिला। यह बात टीटी को बताई थी तो त्वरित एफआईआर करवाने की बात कही। रात में भरतपुर स्टेशन क्रॉस होते ही बदली में आए टीटी ने बारातियों के टिकट दिखाने की बात कही। कृष्णमोहन के पास चोरी गए टिकट की तस्वीर मोबाइल में सेव थी। उनका आरोप है, तस्वीरें दिखाने के बाद भी टीटी राजी नहीं हुए। उन्होंने टिकट सहित बैग चोरी हो जाने की बात फिर टीटी को बताई। आरोप है, १३ नवंबर की सुबह जब ट्रेन देवास पहुंची तो टीटी बारातियों से चालान भरने अथवा वहीं उतारकर कार्रवाई करने की बात कहने लगे। शादी समारोह में कोई खलल न हो, इसलिए दूल्हे के भाई ने मजबूरन चालान भरने की बात बताई।

प्रकरण दर्ज करवाया
विवाह संपन्न होने के बाद मंगलवार को बाराती इंदौर जीआरपी थाने पहुंचे। उन्होंने टीटी द्वारा टिकट होने के बावजूद चालान काटने की बात भी कही। पूरी घटना सुनने के बाद पुलिस ने अज्ञात चोर के खिलाफ जीरो में प्रकरण दर्ज किया है। परेशान बाराती इस मुद्दे को उपभोक्ता फोरम लेकर जाएंगे और कार्रवाई के नाम पर रेलवे द्वारा लिए गए रुपए लौटाने की मांग करेंगे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned