कोरोना का सर्वे कर रही महिला टीचर पर पत्थरों से हमला, थप्पड़ मारे, मोबाइल भी तोड़ा

कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे कर्मवीरों पर फिर हमला, तीसरी बार हुआ हमला...।

By: Manish Gite

Published: 18 Apr 2020, 02:55 PM IST

 

इंदौर। कोरोना महामारी से युद्ध लड़ रहे कर्मवीरों पर एक बार फिर हमला हुआ है। इंदौर की इस घटना ने एक बार फिर शर्मसार कर दिया है। पिछले 15 दिनों में स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हमले की यह तीसरी घटना है।

पलासिया थाना क्षेत्र के विनोबा नगर में शनिवार को पारस यादव नाम के एक बदमाश ने सर्वे करने गई टीम पर चाकू से हमला कर दिया। यहां सुबह तीन महिला कर्मचारियों की टीम करोना को लेकर सर्वे करने गई थी। जब तीन महिलाओं की टीम सर्वे कार्य कर रही थी, तभी वहां मौजूद एक बदमाश आया और उसने महिला कर्मी को धक्का देकर गिरा दिया और धप्पड़ मारने लगा। बदमाश पत्थर भी बरसाने लगा। बाद में महिला का मोबाइल छीनकर तोड़ दिया। इस दौरान बदमाश न पड़ोस में रहने वाले लोगों पर भी चाकू से हमला कर दिया। इसमें तीन अन्य लोग घायल हुए हैं। बताया जाता है कि यह आरोपी क्षेत्र में कच्ची शराब बेचने का काम करता है और वह आदतन अपराधी है। उस पर गांजा बेचने का भी आरोप है। शुक्रवार रात को ही उसका विवाद पड़ोसियों से हुआ था।

सामने आई यह कहानी
शुक्रवार रात को भी इसी बात को लेकर उसका पड़ोसियों से विवाद हो गया था। सुबह भी वहां तनाव का माहौल था। स्वास्थ्य विभाग के सर्वे इंचार्ज प्रवीण चौरे के मुताबिक सर्वे टीम को मोबाइल पर ही डाटा एंट्री करनी होती है। एक महिला कर्मचारी जब मोबाइल पर डाटा अपडेट कर रही थी, तभी आरोपी को लगा कि वो महिला किसी को शिकायत कर रही है। इसके बाद व चाकू लेकर महिला पर दौड़ पड़ा। अन्य वर्कर वहां से हट गई।

 

घायल हो गई शिक्षिका
महिलाकर्मी प्रगति मंडलोई के मुताबिक वे शिक्षिका है और उनकी ड्यूटी घर-घर जाकर कोरोना के लिए सर्वे करने की ड्यूटी लगी है। हमारे साथ अन्य टीचर भी इस काम में लगी हैं। घटना के वक्त आरोपी उनकी तरफ दौड़ा और मारपीट करने लगा। मोबाइल छीनकर तोड़ दिया। इस हमले में वो घायल हो गई।

 

आरोपी समझा महिला शिकायत कर रही है
पुलिस के मुताबिक आरोपी पारस यादव के शराब बेचने की जानकारी मिली है। उसके पड़ोस में अशोक और कमल यादव रहते हैं। पड़ोसियों ने दोनों तरफ लाइट लगा दी है। पारस को ऐसा लग रहा है कि इन्होंने लाइट मेरे कारण ही लगाई है और यहां की सारी जानकारी पुलिस को देते हैं। रात में मोबाइल टीम क्षेत्र में गई थी तो किसी ने बताया कि पारस यहां बदमाशी कर रहा है। इस पर आरोपी को लगा कि इन्होंने ही पुलिस स शिकायत की थी। इसी बात को लेकर सुबह तीनों में विवाद हो रहा था। इसी बीच सर्वे करने गई महिला को मोबाइल चलाता देख पारस यादव को लगा कि महिला ने या तो उसका वीडियो बनाया है या किसी को शिकायत की है। इस पर उसने हमला कर दिया।

coronavirus
Show More
Manish Gite
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned