scriptInspired by Bal Gangadhar Tilak, Ganpati Bappa wore 'Lokmanya Turban' | बाल गंगाधर तिलक के आंदोलन से प्रेरित होकर गणपति बप्पा को पहनाई ‘लोकमान्य पगड़ी’ | Patrika News

बाल गंगाधर तिलक के आंदोलन से प्रेरित होकर गणपति बप्पा को पहनाई ‘लोकमान्य पगड़ी’

locationइंदौरPublished: Aug 31, 2022 11:42:48 am

Submitted by:

Ashtha Awasthi

आजादी के आंदोलन के साथ इंदौर में मराठी भाषियों ने की थी गणेश उत्सव की शुरुआत.....

f15e69f3_439803_p_8_mr.jpg
Ganpati Bappa

इंदौर। इंदौर में गणेश उत्सव पिछले करीब 114 वर्ष से मनाया जा रहा है। होलकर राज्य में भी गणेश उत्सव उसी उत्साह व उमंग के साथ मनाने की परंपरा शुरू हुई थी। इस आयोजन के पीछे का उद्दे्श्य क्रांतिवीर बाल गंगाधर तिलक के जन जागरण अभियान से प्रेरित रहा। दरअसल, पूरे देश में ही गणेश उत्सव मनाने की परंपरा तिलक द्वारा महाराष्ट्र से शुरू की गई थी। चूंकि इंदौर की पृष्ठभूमि भी मराठा परिवेश से ही जुड़ी हुई थी, लिहाजा यहां पर भी गणेश स्थापना करने की परंपरा शुरू हुई। एक जमाने में रामबाग की पहचान इंदौर के प्रमुख सांस्कृतिक केंद्र के रूप में होती थी। इसके पीछे वजह थी, यहां का भव्य गणेश उत्सव। इसका इंतजार हर इंदौरवासी को हुआ करता था।

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.