scriptmango jatra : good quality mangoes from across the country | यहां हैं सबसे अच्छी क्वालिटी के आम, समुद्री हवा और मिट्टी की मिठास भी लेकर आए आम | Patrika News

यहां हैं सबसे अच्छी क्वालिटी के आम, समुद्री हवा और मिट्टी की मिठास भी लेकर आए आम

mango jatra : इंदौर में आए देश में लगने वाले विभिन्न प्रकार के आम...। स्वाद चखने के लिए उमड़ पड़े लोग...।

इंदौर

Published: May 13, 2022 01:54:33 pm

इंदौर। देवगढ़ और रत्नागिरी के आम उत्पादक ट्रकों में आम भरकर शहर पहुंच गए हैं। यहां तीन दिनों तक मैंगों जत्रा लगाया गया है। जत्रा में जो आम आते हैं वो खास होते हैं क्योंकि समूद्री हवा, काली-पीली मिट्टी का मिश्रण और विशेष जलवायु आम को स्वादिष्ट बनाती है।

mango.png

ग्रुप के सुधीर दांडेकर और राजेश शाह ने बताया कि 24 से अधिक उत्पादक तरह-तरह के आम लेकर आए हैं। 15 मई तक चलने वाले आयोजन में आमों के साथ आम उत्पाद और पहली बार मराठी व्यंजनों का स्वाद भी शहर की जनता ले सकेगी। तृप्ति महाजन और सुमेधा बावकर ने बताया कि झूणका भाकर, ठेचा, अप्पे, श्रीखंड-पूरी, मैंगो मस्तानी और अनारसे का स्वाद भी जत्रा में मिलेगा। ढक्कनवाला कुआं स्थित ग्रामीण हाट बाजार में सुबह 9 से रात 9 बजे तक जत्रा खुला रहेगा। शुक्रवार को पहले ही दिन बड़ी संख्या में लोग तरह-तरह के आमों का स्वाद चखने के लिए उमड़ पड़े।

यह भी पढ़ेंः

mango jatra 2022: हापुस आमों से महकेगा शहर, कई प्रकार के आम चख सकेंगे इंदौरी

जीआई टैग वाले ओरिजनल हापुस

देश में कई जगहों पर हाफुस के नाम पर अन्य वैरायटी के आम की बिक्री होती हैं, लेकिन ओरिजनल हापुस आम देवगढ़ और रत्नागिरी में ही पैदा होते हैं। यहां की जलवायु आमों को खास बनाती है। सरकार ने हमारे आमों को प्रमाणित किया है। देवगढ़ और रत्नागिरी के हापुस ही ओरिजनल होते हैं जिसका मैंगों जत्रा में लोग लुत्फ उठा सकेंगे।

संकेत पुजारे, उत्पादक

समुद्री हवाएं देती है लाजवाब स्वाद

हमारे बाग में 700 पेड़ हैं। मैंगों जत्रा के लिए हम 100 पेटी आम लाए हैं। देवगढ़-रत्नागिरी समुद्र के आसपास के इलाके हैं। समुद्री हवाएं और मिट्टी यहां पैदा होने वालो आमों को खास बनाती है। जलवायु के कारण आमों की मिठास और महक दोगुनी होती है। आमों की खासियत होती है कि ये मीठे होने के साथ ही स्वाद में लाजवाब होते हैं।

-सुनील पंवार, उत्पादक

काली-लाल मिट्टी से महक उठता है आम

एक पेड़ पर 200 से 300 ग्राम के आम उगते हैं। समुद्री हवाओं के साथ ही यहां की काली-लाल मिट्टी के मिश्रण में फल बाग होते हैं। इस वजह से यहां पैदा होने वाले आम हर कोई पसंद करता है। मैंगो जत्रा में शहर के लोग पायरी भी खरीद सकते हैं। ये आम हापुस से भी मीठा होता है। अन्य आमों के मुकाबले इसमें रस ज्यादा होता है।

-मनोहर विश्राम, उत्पादक

यह भी पढ़ेंः

यहां देखें मैंगो जत्रा की फोटो

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्ममां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेरपाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने अलापा कश्मीर राग कहा- शांति सुनिश्चित करने के लिए धारा 370 को करें बहाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.