scriptचुनाव के बीच बढ़ी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय की मुसीबत, FIR के आदेश | BJP leader Kailash Vijayvargiya in trouble amid Lok Sabha elections, FIR to be filed | Patrika News
इंदौर

चुनाव के बीच बढ़ी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय की मुसीबत, FIR के आदेश

खरगोन जिले में 10 अप्रैल 2022 में रामनवमी पर हिंसा के समय कैलाश ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी किया था।

इंदौरApr 21, 2024 / 08:45 am

Manish Gite

kailash vijayvargiya
नितेश पाल

नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय की मुसीबतें बढ़ गई हैं। कथित फर्जी वीडियो जारी कर भड़काऊ बयान देने के मामले में शिकायत के बाद विजयवर्गीय पर पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया था। अब इस मामले में हाईकोर्ट ने कार्रवाई के आदेश दिए हैं। खरगोन जिले में 10 अप्रैल 2022 में रामनवमी पर हिंसा के समय कैलाश ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी किया था। उसे खरगोन का बताकर अल्पसंख्यकों पर टिप्पणी की। कांग्रेस नेता डॉ. अमीनुलखान सूरी ने 16 अप्रैल 2022 को तिलकनगर थाने में शिकायत की।
आरोप था, कैलाश ने तेलंगाना के वीडियो को खरगोन का बताया। कैलाश ने इसका जो कैप्शन दिया, वह अल्पसंख्यकों को भड़काने व शांतिभंग करने वाला है। पुलिस ने शिकायत के सालभर बाद भी केस दर्ज नहीं किया तो सूरी हाईकोर्ट पहुंचे। कोर्ट ने तिलकनगर टीआई को 90 दिन में उचित कार्रवाई के आदेश दिए। सूरी की ओर से अभिभाषक जयेश गुरनानी ने पक्ष रखा।

दिग्विजय पर दर्ज हुए थे 9 केस

खरगोन की इसी हिंसा को लेकर कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के खिलाफ भी पुलिस ने भोपाल, ग्वालियर, नर्मदापुरम, जबलपुर, सतना, इंदौर, बैतूल आदि जिलों में 9 केस दर्ज किए। तब दिग्विजय ने एक वीडियो सोशल मीडिया पर डाला था, जिसका कैप्शन था कि क्या खरगोन प्रशासन ने हथियारों के साथ जुलूस निकालने की इजाजत दी थी? सिंह के खिलाफ इस वीडियो की शिकायतों में इसे बिहार का बताया गया था।

Hindi News/ Indore / चुनाव के बीच बढ़ी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय की मुसीबत, FIR के आदेश

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो