दरिंदगी : चिप्स लेने गई मां, अकेली पाकर पौने दो साल की मासूम से नाना ने किया बलात्कार

दरिंदगी : चिप्स लेने गई मां, अकेली पाकर पौने दो साल की मासूम से नाना ने किया बलात्कार

Krishnapal Singh Chauhan | Publish: Oct, 26 2018 09:36:03 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

कुछ ही देर के लिए मां ओझल हुई नाना ने मासूम को बनाया शिकार

इंदौर. रोती हुई बच्ची को बहलाने के लिए ही मां चिप्स लेने गई थी। कुछ ही देर के लिए अपने कलेजे के टूकड़े को आंखों से दूर किया था। इसी बीच घर में ही छुपा दरिंदा उसे शिकार बनाने पहुंच गया। रोने की आवाज तेज होते ही, मां घबराकर उल्टे पैर लौटी। कमरे का दृश्य देख उसके होश उड़ गए।

घटना छत्रीपुरा क्षेत्र की है। मां का मामा यानी बच्ची के लिए रिश्ते का नाना ही ऐसी हरकत कर बैठेगा, यकीन करना मुश्किल था। हालाकि मां ने हिम्मत दिखाई। दरिंदे का मुकाबला किया। उसे कमरे में बंद कर दिया और बच्ची को लेकर अस्पताल की ओर दौड़ पड़ी। हालांकि डॉक्टरों ने फिर इंदौर की संवेदनशीलता पर सवाल खड़ा किया। निजी अस्पताल से उन्हें एमवाय भेज दिया गया और प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल में वार्ड-वार्ड घूमने पर विवश कर दिया। हारकर वे थाने पहुंचे। टीआई शैलेंद्र जादौन के मुताबिक, आरोपी लखन यादव को गिरफ्तार कर लिया है।

नहीं रुक रही दरिंदगी
30 सितंबर को आजाद नगर में ५१ साल के व्यक्ति को पड़ोस की दो बच्चियों के साथ बलात्कार के आरोप में पकड़ा गया।
29 सितंबर को सुतार गली में रिश्तेदार ने ही दो बहनों के साथ बलात्कार किया।
28 सिंतबर 2018 को बाणगंगा में 2 साल की बच्ची को खिलाने के बहाने पड़ोसी ने हरकत की। तभी बच्ची की मां आ गई।
21 सिंतबर 2018 को सिमरोल में 8 साल की बच्ची के साथ चचेरे भाई व दो नाबालिग ने बलात्कार किया।

अबोध को लेकर एमवाय में वार्ड-वार्ड घूमती रही पीडि़ता की मां

छत्रीपुरा इलाके में करीब पौने दो साल की बच्ची के साथ उसके रिश्ते के नाना ने ही बलात्कार किया। बच्ची की मां बाहर गई थी, उस दौरान आरोपी बच्ची को लेकर कमरे में गया। मां ने गलत स्थिति में देखा तो बच्ची को छुड़वाया और आरोपी को एक कमरे में बंद कर बच्ची को निजी अस्पताल लेकर दौड़ी।

घटना गुरुवार दोपहर करीब 3 बजे की बताई जा रही है। सेठी नगर में युवती अपनी मां के घर में रहती है। उसकी करीब पौने दो साल की बच्ची है। दोपहर में बच्ची सोकर उठी तो रोने लगी, उस दौरान युवती का मामा लखन उर्फ लक्कू यादव (25) निवासी ऋषि पैलेस कॉलोनी भी वहां आया हुआ था। बच्ची के रोने पर उसकी मां दुकान से चिप्स लेने चली गई। वह दुकान पर पहुंची ही थी कि बच्ची के रोने की आवाज बहुत तेज हो गई। घबराकर वह तुरंत लौटी। कमरे में गई तो उसने बच्ची के साथ आरोपी को गलत हरकत करते हुए देखा और शोर मचाया। युवती ने आरोपी के कब्जे से बच्ची को छुड़वाया। उसे कमरे में बंद करने के बाद युवती बच्ची को लेकर पहले महू नाका के पास क्लॉथ मार्केट अस्पताल ले गई। बाद में मांं व अन्य रिश्तेदारों के साथ एमवाय अस्पताल पहुंची।

पति से रहती है अलग
बच्ची की मां की शादी मूसाखेड़ी में रहने वाले युवक से हुई थी। पति से विवाद होने के कारण वह अपनी मां के साथ रहती है, जहां उसके मामा आरोपी लखन का आना-जाना रहता है।

परिजन ने कहा, मानसिक स्थिति ठीक नहीं है
टीआई शैलेंद्र जादौन के मुताबिक, आरोपी लखन यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी पर धारा 376 (2) च व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। आरोपी के परिजन का कहना है, उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। हालांकि पुलिस को पता चला कि वह आपराधिक किस्म का है और द्वारकापुरी थाने में उस पर केस भी दर्ज है।

किसी ने बच्ची की तरफ ध्यान नहीं दिया
बच्ची के साथ गलत हरकत हुई थी, लेकिन एमवायएच के स्टाफ ने तुरंत इलाज नहीं किया। जिम्मेदारों ने उसे बच्ची को लेकर महिला वार्ड में जाने का कह दिया। उसकी नानी का कहना था कि कोई भी बच्ची की ओर ध्यान नहीं दे रहा है। जब अस्पताल में किसी ने गंभीरता नहीं दिखाई तो परिजन बच्ची को लेकर वहां से चले गए। वे सीधे छत्रीपुरा थाने पहुंचे। जिला अस्पताल में मेडिकल कराया।

जिम्मेदार बोले- हमने महिला वार्ड भेजा था
एमवाय अस्पताल के अधीक्षक डॉ. वीएस पॉल का कहना है, बच्ची को लेकर उसकी मां आई तो हमने उसे महिला वार्ड जाने के लिए कहा था। बाद में पता किया तो वह महिला वार्ड में बच्ची को लेकर नहीं पहुंची। इलाज में लापरवाही जैसी कोई बात नहीं है। उनका कहना था, सीसीटीवी की रिकार्डिंग से बच्ची व परिवार के सर्च कर रहे हैं, हालांकि परिवार बाद में थाने पहुंच गया था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned