police पर हमला कर चुका है यह निगरानीशुदा बदमाश, अब हुआ यह हाल

गोटेगांव के ऋषिराज पटैल पर 48 एकड़ जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करके 90 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप

By: deepak deewan

Published: 14 Nov 2017, 11:41 AM IST

जबलपुर। जिस निगरानीशुदा बदमाश से स्थानीय पुलिस भी कांपती थी वो आखिरकार कानूून की गिरफ्त में आ ही गया। गोटेगांव के ऋषिराज पटेल को जबलपुर की ओमती पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 48 एकड़ जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करके 90 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप में ऋ षिराज को पकड़ा गया है। यह गोटेगांव का निगरानीशुदा बदमाश है जिसपर हत्या, हत्या के प्रयास, अवैध वसूली, अवैध कब्जा और धोखेबाजी आदि के करीब 20 प्रकरण दर्ज हैं। ऋषिराज का ऐसा खौफ था कि स्थानीय पुलिस उसे हाथ लगाने से डर रही थी। धोखाधड़ी मामले में उसकी लगातार फरारी के बाद एसपी शशिकांत शुक्ला ने उसके खिलाफ 10 हजार का ईनाम घोषित किया था।


पुलिस पर किया था हमला
धोखाधड़ी करने का यह आरोपी पिछले 6 महीने से पुलिस को चकमा दे रहा था। जानकारी के अनुसार करीब एक महीने पहले भी ओमती पुलिस उसे गिरफ्तार करने गोटेगांव पहुंची थी, लेकिन ऋषिराज ने पुलिस टीम पर ही हमला कर दिया था। उसके इस हमले में में कई पुलिसकर्मियों जान खतरे में पड़ गई थी। पर अब उसे तगड़ी घेराबंदी कर पकड़ लिया गया है।

जान से मारने की धमकी

चंदन कॉलोनी गंगानगर निवासी सत्येन्द्र यादव की रिपोर्ट पर पुलिस ने ये कार्रवाई की है। पुलिस ने बताया कि सालीवाड़ा गोटेगांव निवासी ऋषिराज सिंह पटेल के साथ ही शहपुरा-भिटौनी निवासी देवी सिंह उर्फ रोशन सिंह, बंटी उर्फ आकाश सिंह, गढ़ा निवासी अंकित उर्फ निक्की सिंह और बिछआ थाना देवरी सागर निवासी अंकित सिंह व 4 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। इन सभी आरोपियों पर धोखाधड़ी, षड्यंत्र रचने जैसी धाराओं में 19 मई को अपराध दर्ज किया था। आरोपियों ने 48 एकड़ जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करके सत्येन्द्र यादव से 90 लाख रुपए ले लिए थे और बाद में उसे जान से मारने की धमकी देने लगे। इस मामले में 8 नामजद आरोपियों में से 7 को गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन ऋषिराज को पकडऩा पुलिस के लिए चुनौती बन गई थी।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned