पटवारी परीक्षा की पहली शिफ्ट के दोबारा होंगे एग्जाम, पढि़ए एमपीपीईबी का ताजा फैसला

सर्वर डाउन होने के कारण सुबह की पारी में परीक्षा करना पड़ा था स्थगित

By: deepankar roy

Published: 09 Dec 2017, 01:58 PM IST

जबलपुर। प्रदेश में पटवारी की शनिवार को सुबह की पारी में होने वाली ऑनलाइन भर्ती परीक्षा दोबारा होगी। अव्यवस्थाओं के कारण पहले दिन सुबह की पारी में परीक्षाएं प्रभावित हुई थी। सर्वर डाउन होने के कारण परीक्षा का निर्धारित समय पर संचालन नहीं हो पाया था। करीब तीन घंटे तक सर्वर लिंक नहीं होने के कारण परीक्षाएं स्थगित किए जाने की चर्चाएं तेज हो गई थी। इस बीच मध्यप्रदेश प्रोफेशनल एग्जामिनेशन द्वारा पहली पारी के उम्मीदवारों की परीक्षाएं दोबारा आयोजित करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। जल्द ही इसका समय जारी किया जाएगा।

आधार वेरीफिकेशन में समस्या
पटवारी भर्ती की पहले दिन की पहली पारी की परीक्षा के स्थगित किए जाने के कई कारण सामने आ रहे है। परीक्षा केंद्रों द्वारा सर्वर डाउन होने की बात कहकर परीक्षा नहीं होने की बात कही जा रही है। सूत्रों के हवाले खबर यह भी आ रही है कि उम्मीदवारों के आधार वेरीफिकेशन में तकनीकी समस्या आ रही है। ऑनलाइन वेरीफिकेशन सिस्टम में समस्या के कारण उम्मीदवारों की जांच और पहचान में दिक्कत हो रही थी। इसके चलते सुबह की पारी की परीक्षा प्रभावित हुई। हालांकि एमपीपीईबी की ओर से इस संबंध में कोई आधिकारिक बात अभी तक नहीं की गई है।

अलग से भेजी जाएगी तिथि
एमपीपीईबी के सूत्रों के अनुसार पटवारी परीक्षाओं को रिशेड्यूल किया जा रहा है। शनिवार की सुबह जिन उम्मीदवारों को रजिस्ट्रेशन के बाद परीक्षा देने का मौका नहीं मिला उनके लिए अब नया शेड्यूल तैयार किया जा रहा है। आज सुबह पहली पारी में प्रभावित उम्मीदवारों के लिए पीईबी एग्जाम की नई तारीख जारी करेगा। इस ऑनलाइन टेस्ट के लिए पंजीकृत उम्मीदवारों को तिथियां अलग से भेजी जाएगी। इसकी जानकारी उम्मीदवारों को उनके मेल एवं आवेदन पत्र पर दर्ज मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिए भेजने के भी प्रयास किए जाएंगे।

शहर में भी उम्मीदवार परेशान
पटवारी परीक्षा के लिए शहर में भी कई इंजीनियरिंग कॉलेजों को ऑनलाइन टेस्ट का केंद्र बनाया गया है। इसमें पहली पारी में करीब ३७ सौ उम्मीदवारों को शामिल होना था। लेकिन परीक्षा नहीं होने से ये उम्मीदवार मायूस लौट गए। वहीं, पहली पारी की परीक्षा स्थगित किए जाने से प्रदेश में करीब २६ हजार उम्मीदवारों के प्रभावित होने की संभावना है।

Show More
deepankar roy Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned