उजागर होंगे फर्जी राशन कार्डधारियों के नाम, इनकों सौंपा जांच का जिम्मा

सत्यापन दलों का गठन पूरा, अब सूची का इंतजार

जबलपुर। जिले में राशन कार्ड के सत्यापन के लिए भोपाल से हाल ही में शहरी क्षेत्र के दल गठन किया गया है।
जबकि ग्रामीण क्षेत्र के लिए करीब एक माह पहले ही दल का गठन हो चुका है। अब शासन से पात्र परिवार और उनके सदस्यों के नामों की सूची जारी होगी। इसी आधार पर सत्यापन शुरू होगा।

994 दुकानें हैं शहर में
जिले में शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में 994 राशन दुकानें में हैं। इनमें चार लाख दो हजार परिवारों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत जारी राशन कार्ड का सत्यापन होना है। सत्यापन में यह जांचा जाएगा कि जिन लोगों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न और अन्य वस्तुओं का लाभ दिया जा रहा है, वे अब भी पात्र हैं या इस श्रेणी से बाहर हो गए हैं। इसी आधार पर उनका नाम विलोपित किया जाएगा। पात्र परिवारों के नए सदस्यों को भी इसमें शामिल किया जाएगा।

दल में 2104 सदस्य
ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में सत्यापन के लिए बनाए गए दल में 2104 सदस्य शामिल हैं। इसमें नगर निगम सीमा के लिए लगभग 906 सदस्य पंजीकृत हैं। जनपद पंचायत शहपुरा के लिए 188, जबलपुर ग्रामीण 152, सिहोरा 150, कुंडम 150, मझौली 144, पाटन 133, पनागर 121,नगर पालिका सिहोरा 36, पनागर 25, नगर परिषद कटंगी 165, मझौली 13, पाटन 12, शहपुरा 11, बरेला 10 और भेड़ाघाट के लिए चार सदस्यीय दल का गठन किया गया है।

ग्रामीण और नगरीय सीमा क्षेत्र के लिए सत्यापन दलों का गठन किया जा चुका है। अब शासन से पात्र परिवारों की सूची आना शेष है। सूची आते ही सत्यापन शरू कर दिया जाएगा।
सुधीर दुबे, प्रभारी जिला आपूर्ति नियंत्रक

reetesh pyasi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned