जबलपुर में टिकटॉक का जबरदस्त विरोध, मोस्ट फेवरिट चाइनीज ऐप भी अनइंस्टॉल

जबलपुर में टिकटॉक का जबरदस्त विरोध, मोस्ट फेवरिट चाइनीज ऐप भी अनइंस्टॉल

 

By: Lalit kostha

Published: 26 Jun 2020, 02:01 PM IST

जबलपुर। टिकटॉक...पिछले दो से तीन सालों के दौरान यह एप हर किसी के मोबाइल में मौजूद था। दिनभर में मिलने वाले डाटा का अधिकतर उपयोग यहीं होता था। कभी वीडियोज देखने तो कभी लाइक एंड शेयर के साथ डुएट भी बन जाते थे। लेकिन अब युवाओं ने इस एप से दूरी बना ली है। कारण कोरोना वायरस और चीनी सेना द्वारा भारतीय सेना पर किया गया हमला। यही वजह है कि अब युवाओं द्वारा ज्यादा से ज्यादा स्वदेशी वस्तुओं के अपनाने पर जोर दिया जा रहा है।

स्वदेशी के कॉन्सेप्ट को ध्यान में रखते हुए शहर के
युवा पर चाइनीज एप को कर रहे डिलीट
मोस्ट फेवरिट टिकटॉक आउट, चाइनीज ऐप भी अनइंस्टॉल

 

chinese apps

सभी तरह के चाइनीज एप किए दूर
शहर के युवाओं द्वारा पिछले कुछ दिनों में चाइनीज एप को अन्इंस्टॉल किया गया है। इसके साथ ही मार्केट में मौजूद चीनी आइटम्स से दूरी भी बना लिया है। युवाओं का कहना है कि वे किसी भी ऐसे चीनी प्रोडक्ट का उपयोग नहीं करना चाहते, जिसका फायदा उनसे जुड़ा हुआ है। इसके लिए जेंडर, टिकटॉक, यूसी ब्राउजर और दूसरे चाइनीज एप लोगों द्वारा अनइंस्टॉल कर दिए गए हैं।

डीपी स्टेटस में शेयर कर रहे स्क्रीन
युवाओं द्वारा इन दिनों चीनी एप्लिकेशन को बंद के बाद स्क्रीन की शेयरिंग की जा रही है, जिसे डीपी और स्टेटस में लगाया जा रहा है। युवाओं का कहना है कि इस तरह के काम से दूसरे लोग भी जागरूक होंगे। इससे इंडिया में डवलप होने वाले एप्लिकेशन को भी बढ़ावा मिलने का मौका मिलेगा।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned