World Mosquito Day : इन तीन तरह के मच्छरों से आप भी रहें बचकर, जो जानलेवा बीमारियों के वाहक हैं

विश्व मच्छर दिवस (World Mosquito Day) पर हम आपको बताने जा रहे हैं मच्छरों के तीन ऐसी प्रजाति (Three species of mosquitoes) के बारे में जिनसे आपको बचकर रहना चाहिए।

जगदलपुर. विश्व मच्छर दिवस (World Mosquito Day) हर वर्ष 20 अगस्त को मनाया जाता है। ब्रिटिश डॉक्टर सर रोनाल्ड रॉस (Ronald Ross) ने 1897 में खोज थी कि मादा मच्छर मनुष्यों के बीच मलेरिया फैलाती हैं। लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन 1930 के दशक से हर साल विश्व मच्छर दिवस समारोह आयोजित करता है। मच्छर दुनिया के सबसे घातक कीड़ों में से एक हैं।

मच्छर जीवित जीवों के रूप में कार्य करते हैं
दुनिया में कई ऐसे मच्छर हैं जो अलग-अलग बीमारियां फैलाते हैं। एडीज (Aedes), एनोफिलीज (Anopheles), क्यूलेक्स (Culex) मच्छर जीवित जीवों के रूप में कार्य करते हैं जो विभिन्न रोगों को मनुष्यों से जानवरों में या जानवरों से मनुष्यों में फैला सकते हैं। जैसे एडीज, चिकनगुनिया, डेंगू बुखार, लसीका फाइलेरिया, रिफ्ट वैली बुखार, पीला बुखार, जीका

एडीज मच्छर के काटने के लक्षण
एडीज मच्छर के काटने पर कुछ इस तरह के लक्षण दिखाई देते है जो हमें नजर अंदाज नहीं करने चाहिए जैसे- तेज बुखार, आंखों में दर्द जी घबराना मचलना व उल्टी आना गर्दन तथा पीठ में दर्द अकडऩ, जोड़ों तथा मांसपेशियों मे ऐंठन और दर्द त्वचा पर छोटे छोटे लाल हिस्से उभरना, शारीरिक कमजोरी व थकान

ऐसे करें बचाव
घर में कभी भी ज्यादा दिनों तक खुले में पानी जमा न होने दें, अगर किसी बर्तन और बाल्टी में जिनमें पानी जमा रहता है उन्हें उलटकर रखें। घर के खाली गमलों को अच्छी तरह साफ रखें और पौधों में जरूरत से ज्यादा पानी न डालें क्योंकि पानी ज्यादा एकत्र रहेगा तो डेंगू के मच्छर पनपने की आशंका बनी रहेगी। बारिश के मौसम में मच्छरदानी का प्रयोग जरूर करें करें।

Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned