script पत्रिका सर्वे...99 फीसदी बोले...वीवीआइपी मूवमेंट से होती देरी, दो घंटे से ज्यादा रहता असर | 99 percent said VVIP movement causes delay, effect more than two hours | Patrika News

पत्रिका सर्वे...99 फीसदी बोले...वीवीआइपी मूवमेंट से होती देरी, दो घंटे से ज्यादा रहता असर

locationजयपुरPublished: Feb 10, 2024 11:19:36 am

Submitted by:

Ashwani Kumar

राजधानी के लोग वीवीआइपी मूवमेंट और जाम से परेशान हो चुके हैं। किसी ने घर से जल्दी निकलना शुरू कर दिया तो किसी ने रास्ता ही बदल लिया। राजस्थान पत्रिका ने लोगों की समस्या को समझने के लिए एक सर्वे करवाया। इस सर्वे में 99 फीसदी लोगों ने माना कि वीवीआइपी मूवमेंट की वजह से सर्वाधिक परेशानी होती है।

 

पत्रिका सर्वे...99 फीसदी बोले...वीवीआइपी मूवमेंट से होती देरी, दो घंटे से ज्यादा रहता असर
पत्रिका सर्वे...99 फीसदी बोले...वीवीआइपी मूवमेंट से होती देरी, दो घंटे से ज्यादा रहता असर

राजधानी के लोग वीवीआइपी मूवमेंट और जाम से परेशान हो चुके हैं। किसी ने घर से जल्दी निकलना शुरू कर दिया तो किसी ने रास्ता ही बदल लिया। राजस्थान पत्रिका ने लोगों की समस्या को समझने के लिए एक सर्वे करवाया। इस सर्वे में 99 फीसदी लोगों ने माना कि वीवीआइपी मूवमेंट की वजह से सर्वाधिक परेशानी होती है। लोगों का मानना है कि वीआइपी कार्यक्रम शहर से बाहर हों और जरूरत के हिसाब से शहर में फ्लाईओवर का भी निर्माण करवाया जाए तभी शहरवासियों को सुगम राह मिल सकेगी।

सवाल: वीवीआइपी मूवमेंट के कारण आपके जरूरी कार्य में देरी होती है ?
हां-99
नहीं-01

सवाल: वीआइपी मूवमेंट के वैकल्पिक इंतजाम क्या होने चाहिए ?
-शहर के बीच अलग-अलग इलाकों में चार से पांच हेलीपैड: 5.4
-फ्लाईओवर: 13.9
-वीआइपी कार्यक्रम शहर से बाहर होने चाहिए: 32.7
-उपरोक्त सभी: 48

सवाल: वीआइपी मूवमेंट खत्म होने के बाद कितनी देर तक इसका असर नजर आता है ?
-एक घंटे: 28.4
-दो घंटे: 22.4
-इससे भी अधिक: 49.3

सवाल: यातायात जाम के कारण कैब टैक्सी का किराया भी बढ़ जाता है ?
-हां: 97
-नहीं: 3

सवाल: अत्यधिक जाम स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है ?
-हां : 98.5
-नहीं 1.5


सवाल: मेडिकल इमरजेंसी के अलावा यात्रियों को भी वीआइपी मूवमेंट में छूट मिलनी चाहिए ?
-
हां: 50.7
-नहीं: 04.9
-यह समाधान नहीं है: 44.3

सवाल: क्या जाम में फंसे लोगों से यातायात पुलिस दुर्व्यवहार करती है ?
-हां : 44.8
-नहीं: 12.3
-कभी-कभी: 42.9

सवाल: अक्सर कम समय बोलकर लोगों को घंटों इंतजार करवाया जाता है ?
-हां: 87.9
-नहीं:12.1

सवाल: यातायात रोकने की पूर्व सूचना मिलती है ?
-हां: 12.8
-नहीं: 55.2
-कभी-कभी:32

सवाल: क्या रास्ता ब्लॉक करने की पूर्व सूचना देना समाधान है ?
-हां: 35.3
-नहीं: 64.7

वीआइपी मूवमेंट जरूरी है तो वीकेंड पर रखें। उस समय ज्यादातर स्कूल-कॉलेज और ऑफिस की छुट्टी होती है। कोई भी मीटिंग या कॉन्फ्रेंस हो तो वो शहर के बीचोंबीच न हो। ज्यादातर वीआइपी मूवमेंट पीक आवर्स में न हो। सड़कों से अतिक्रमण हटाया जाए।
-पंकज खण्डेलवाल, आदर्श नगर

ट्रैफिक लाइट्स में बदलाव की जरूरत है। जाम को कम करने के लिए अतिक्रमण हटाया जाए। सड़कों पर वाहन पार्क न करने दिए जाएं। नई तकनीक का प्रयोग करते हुए ट्रैफिक जाम होने की स्थिति में अलर्ट मैसेज भेजे जाएं ताकि लोगों को सुगम राह मिल सके
-रजित बिंवाल, गलता गेट

जिन सड़कों पर वाहनों का दबाव ज्यादा रहता है वहां वीवीआइपी मूवमेंट कम से कम होने दिया जाए। कई जगह फ्लाईओवर और अंडरपास की भी जरूरत है। बड़े आयोजन भी शहर के बाहरी इलाकों में होने चाहिए। इससे बेवजह शहर के अंदर वाहनों का दबाव नहीं बढ़ेगा।
-अंकिता पारीक, राजापार्क

ट्रेंडिंग वीडियो