नवजात में सांस संबंधी समस्या घातक

Anil Chauchan

Publish: Jun, 14 2018 08:52:49 PM (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
नवजात में सांस संबंधी समस्या घातक

नवजात में सांस संबंधी समस्या घातक

जयपुर
बच्चों में श्वांस संबंधी समस्याओं पर ध्यान नहीं दिया तो वह घातक हो सकती है। यदि नवजात शिशु सांस लेने के दौरान आवाजें करता है तो उस ध्वनि को नोटिस करना चाहिएए इसी से बच्चे की श्वसन नली में आने वाली रुकावट या श्वसन संबंधी समस्याओं के बारे में जान सकते हैं।
शिशु श्वसन रोग स्पेशलिस्ट डॉण् प्रीति शर्मा ने बताया कि जब नवजात सांस लेने के दौरान सीटी की तरह आवाजें निकालता है तो इसका अर्थ है नवजात को सांस लेने में थोड़ी सी परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि श्वसन नली में छोटी सी रुकावट के कारण ऐसी परेशानी होती हैए जिसे नाक अच्छी तरह से साफ करके दूर किया जा सकता है।
... सांस लेने में लगाना पड़ता है जोर
डॉ प्रीति शर्मा ने बताया कि जब बच्चा सांस लेने के दौरान गडग़ड़ाहट की आवाज करने लगे तो बच्चे की श्वसन नली में बड़ी परेशानी है। ऐसे बच्चों को सांस लेने में बहुत जोर लगाना पड़ रहा है। ऐसे में तुरंत चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए। जब कभी ऐसी स्थिति होती है तो बच्चे को खांसी.जुकाम की नौबत तक आ जाती है या फिर शिशुओं में छिकने की समस्याएं होने लगती हैंए ऐसे में बच्चे का जल्द उपचार कराना चाहिए।
उन्होंने बताया कि बच्चे का समय से पहले होना नवजात में श्वांस समस्या का बहुत बड़ा कारण है। कई बार मां के कारण बच्चे को भी इंफेक्शन हो जाता है या फिर नवजात से मिलने वाले लोगों को किसी तरह का कोई संक्रमण होता है तो वह बच्चे में फैलने का डर रहता है।

सांस लेने में गडग़ड़ाहट होना ..
डॉ प्रीति बताती हैं किए जब बच्चा सांस लेने के दौरान गडगड़ाहट की आवाज करने लगे तो बच्चे की श्वसन नली में बड़ी परेशानी है और बच्चे को सांस लेने में बहुत जोर लगाना पड़ रहा है ऐसे में तुरंत चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए।
कफ का अधिक बनना ..
जब कभी ऐसी स्थिति होती है तो बच्चे को खांसी.जुकाम की नौबत तक आ जाती हैं या फिर शिशुओं में छिंकने की समस्याएं होने लगती हैंए ऐसे में बच्चे का जल्द से जल्द उपचार करवाना चाहिए। कभी ऐसा परेशानी आने लगे तो बच्चे के फेफड़ों में कोई समस्या होने के कारण ऐसा हो सकता है। ऐसी स्थिति में बच्चे का पूरा उपचार करवाना चाहिए।
क्या हैं कारण ..
बच्चे का समय से पूर्व होना नवजात में श्वास समस्या का बहुत बड़ा कारक है। संक्रमण. कई बार मां के कारण बच्चे को भी इंफेकशन हो जाता है या फिर नवजात से मिलने वाले लोगों को किसी तरह का कोई संक्रमण होता है तो वह बच्चे में फैलने का डर रहता है। निम्न ब्लड शुगर. यदि नवजात की मां जेस्टेशनल डायबिटीज से पीडि़त है तो नवजात में ब्लड शुगर की मात्रा में उतार.चढ़ाव हो सकता हैए जिससे बच्चे को श्वास संबंधी समस्याएं होने की आशंका बढ़ जाती है।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned