अब हर जिला मुख्यालय पर होंगे पोस्ट कोविड क्लिनिक, कोरोना से मुक्त रोगियों की समस्याओं पर रहेगी नजर

Coronavirus In Rajasthan: कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीज भी घर जाकर अन्य रोगों का शिकार होने लगे हैं।

By: santosh

Updated: 23 Oct 2020, 10:16 AM IST

जयपुर। coronavirus In Rajasthan: कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीज भी घर जाकर अन्य रोगों का शिकार होने लगे हैं। लगातार ऐसे मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए अब कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके लोगों को अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से निजात दिलाने के लिए हर जिला मुख्यालय पर पोस्ट कोविड क्लिनिक ( post covid clinic In Rajasthan ) होंगे। इन क्लिनिक में संक्रमण से ठीक होने के बाद अन्य रोगों से ग्रसित लोगों का इलाज किया जाएगा। इसके लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने हर जिला अस्पताल को निर्देश जारी किए हैं। हर जिला मुख्यालय पर पोस्ट कोविड क्लिनिक और पोस्ट कोविड आईसीयू चलाना जरूरी होगा।

अब अस्पतालों में लगातार कोरोना से ठीक हो चुके लोग तनाव से जुड़ी समस्याएं लेकर आ रहे हैं। साथ ही ऐसे मरीजों में कोरोना से ठीक होने के बाद सांस संबंधी विकार, मानसिक ट्रोमा, डायबिटीज, दिल संबंधी बीमारियां, किडनी समस्या और पेट संबंधी बीमारियां हो रही हैं। कोरोना संक्रमण के इन दूसरे प्रभावों की जांच और निदान के लिए अब पोस्ट कोविड क्लिनिक की जरूरत महसूस की जाने लगी है। अब इन पोस्ट कोविड बीमारियों का इलाज किया जाएगा।

अलग से होगा ओपीडी का संचालन:

पोस्ट कोविड बीमारियों से ग्रसित मरीजों के लिए हर जिला मुख्यालय अस्पताल में अलग से ओपीडी का संचालन किया जाएगा। इसका समय सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक निर्धारित रहेगा। इस ओपीडी में एक एमडी मेडिसिन, एक काउंसलर और एक श्वास संबंधी बीमारियों का स्पेशलिस्ट डॉक्टर सेवाएं देगा। मरीजों की संबंधित सभी बीमारियों का इलाज यहां दिया जाएगा। साथ ही उसकी काउंसलिंग भी की जाएगी। इसके बाद कोविड केयर इंचार्ज की जिम्मेदारी होगी कि वह तीन दिन में मरीज का फीडबैक लें। उनका पूरी तरह ठीक होना सुनिश्चित करना होगा।

गंभीर मरीजों के लिए अलग आईसीयू:

इन पोस्ट कोविड मरीजों में कोई गंभीर बीमारी के लक्षण दिखाई देते हैं तो जिला मुख्यालय अस्पताल में इनके लिए अलग वार्ड, अलग बैड और अलग आईसीयू चिह्नित किए जाएंगे। वे इन मरीजों के लिए ही रिजर्व रहेंगे। मरीजों को 24 घंटे चिकित्सा की सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

181 हैल्पलाइन की ले सकते हैं मदद:
ऐसे रोगी एम्बुलेंस या अन्य चिकित्सकीय सहायता के लिए हैल्पलाइन नंबर 181 की मदद ले सकते हैं। इस पर फोन करने पर रोगियों को पोस्ट कोविड क्लिनिक पहुंचाया जाएगा।

coronavirus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned