स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2018 में सामान्य वर्ग से 14 फीसदी पद पुन: बहाल करने की मांग

अभ्यार्थी बने गांधीजी के तीन बंदर
रघुपति राघव राजा राम भजन का कीर्तन किया

By: Rakhi Hajela

Published: 12 Apr 2021, 10:18 PM IST



जयपुर,
स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2018 में सामान्य वर्ग से कम किए गए 14 फीसदी पदों पुन: बहाल करने की मांग को लेकर आंदोलनरत अभ्यार्थियों ने सोमवार को सुजानगढ़ में गांधी चौक में लगी महात्मा गांधी की मूर्ति को स्नान करवाया, माला पहनाकर पुष्प अर्पित किए और रघुपति राघव राजा राम भजन का कीर्तन किया। अभ्यर्थियों ने गांधीजी के तीन बंदर बनकर संदेश दिया कि कांग्रेस सरकार गूंगी,बहरी और अंधी हो चुकी है।
इन अभ्यार्थियों ने कहा कि शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने सुजानगढ़ विधानसभा क्षेत्र के कातर छोटी गांव की जनसभा में 8 अप्रैल को स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2018 में सामान्य वर्ग से 14 फीसदी पद कटौती को पुन: बहाल करने की घोषणा की थी। ऐसे में अब मुख्यमंत्री को इसका नोटिफिकेशन जल्द जारी करना चाहिए। जब राज्य सरकार की ओर से कोई आधिकारिक ट्वीट या नोटिफिकेशन जारी नहीं होता हमारा आंदोलन जारी रहेगा।
गौरतलब है किअपनी मांग को लेकर यह अभ्याथी 2 अप्रेल से धरने पर हैं। इससे पूर्व राजधानी जयपुर में शहीद स्मारक पर भी 22 दिन तक धरना दे चुके हैं और अब सुजनागढ़ में इनका धरना चल रहा है।

अभ्यार्थियों का कहना है कि सरकार ने स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2018 में करीब डेढ़ साल बाद में सामान्य वर्ग से 14 फीसदी पद कम कर 10 फीसदी ईडब्ल्सूएस व 4 फीसदी एमबीसी को दे दिए। जिसकी वजह से सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी वेटिंग में आकर बेरोजगार हो गए और सभी वर्गों के साथ अन्याय हुआ। अभ्यार्थीइस पद कटौती को वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं। अभ्यर्थी हनुमान ढाका , रामप्रताप सारण,विश्वेंद्र सिंह सेवदा, मनोज स्वामी , विकास प्रजापत, केशव बागड़ा,दिनेश सैनी, रविंद्र शर्मा,भूनेश सैनी, विजेंद्र चौधरी, लालू राम जाट,अजीत जाट,विजय नायक विजय ,वासुदेव, मन्नू सिंह, दयाराम, मोहम्मद हुसैन, मुकेश आदि ने कहा कि यदि समय रहते सरकार ने नोटिफिकेशन जारी नहीं किया इसका खामियाजा सरकार को उपचुनाव में भुगतना पड़ सकता है।

ि

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned