राजस्थान के 24 जिलों तक पसरा डेंगू, अब आईपीएस अधिकारी स्वाइन फ्लू पॉजिटिव

राजस्थान के 24 जिलों तक पसरा डेंगू, अब आईपीएस अधिकारी स्वाइन फ्लू पॉजिटिव

santosh trivedi | Publish: Mar, 14 2018 10:25:06 AM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 10:30:02 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

स्वाइन फ्लू और डेंगू, Rajasthan में दोनों ही रोगों पर चिकित्सा विभाग अब तक लगाम नहीं लगा पाया है। Dengue 24 जिलों तक पांव पसार चुका है।

जयपुर। स्वाइन फ्लू और डेंगू, Rajasthan में दोनों ही रोगों पर चिकित्सा विभाग अब तक लगाम नहीं लगा पाया है। Dengue 24 जिलों तक पांव पसार चुका है। स्वाइन फ्लू का भी असर कम होने की बजाय बढ़ रहा है। अब एक आईपीएस अधिकारी की Swine flu रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

जनवरी से अब तक स्वाइन फ्लू के 1203 मरीज सामने आए

राज्य में दोनों ही घातक रोग मरीजों की संख्या के हिसाब से मानो रिकॉर्ड बनाने पर आमादा हैं। जनवरी से अब तक स्वाइन फ्लू के 1203 मरीज सामने आ चुके हैं। डेंगू के मरीजों की संख्या भी पहली बार सर्दी के मौसम में 750 तक पहुंच चुकी है।

प्रियदर्शी स्वाइन फ्लू पॉजिटिव
एसएमएस अस्पताल में जांच के बाद जयपुर रेंज आईजी हेमंत प्रियदर्शी को स्वाइन फ्लू पॉजिटिव बताया गया है। हालांकि हाल ही राज्यपाल कल्याण सिंह की जांच रिपोर्ट में विरोधाभास सामने आने के मद्देनजर एसएमएस अस्पताल ने प्रियदर्शी की दो जांच बार कराई। दोनों बार ही रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उनके परिजन और आसपास के लोगों की भी जांच की जाएगी।

इन हालात में तबादले, उठ रहे सवाल
इधर डेंगू और स्वाइन फ्लू बेकाबू हो रहे हैं और उधर तबादलों से रोक हट गई है। ऐसे में चिकित्सा विभाग में तबादले होने को लेकर सवाल उठ रहे हैं। जानकारों का कहना है कि विभाग में तबादले नवंबर से जनवरी तक होने चाहिए। इस समय तबादले हुए तो व्यवस्था पर असर पड़ेगा।

स्वाइन फ्लू का प्रकोप यहां ज्यादा
- जयपुर : 755
- जोधपुर : 91
- अजमेर : 47
- कोटा : 23
- उदयपुर : 23

डेंगू का कहां कितना असर
- अजमेर : 37
- अलवर : 35
- बारां : 10
- बाड़मेर : 1
- भरतपुर : 35
- भीलवाड़ा : 3
- बीकानेर : 2
- बूंदी : 8
- चित्तौडग़ढ़ : 1
- चूरू : 12
- दौसा : 25
- धौलपुर : 11
- श्रीगंगानगर : 2
- हनुमानगढ़ : 6
- जयपुर : 375
- जालोर : 1
- झुंझुनूं : 28
- जोधपुर : 7
- करौली : 13
- कोटा : 64
- नागौर : 16
- सवाई माधोपुर : 12
- सीकर : 27
- टोंक : 18

चिकनगुनिया के कितने मरीज
- अजमेर : 6
- अलवर : 2
- भरतपुर : 10
- दौसा : 3
- धौलपुर : 1
- जयपुर : 52
- झुंझुनूं : 2
- जोधपुर : 23
- करौली : 2
- कोटा : 1
- नागौर : 1
- कुल : 107 मरीज अब तक

 

अब प्रदेश की सड़कों पर पर नहीं दिखेंगे मनमाने आकार के ट्रक, 1 अप्रेल से लागू होगा ट्रक बॉडी कोड

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned