जयपुर अग्निकांड: लापरवाही पर गिरी गाज, तीन फायरमैन निलंबित, सीएफओ को चार्जशीट

kamlesh sharma

Publish: Jan, 13 2018 04:10:23 (IST) | Updated: Jan, 13 2018 09:20:36 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India

विद्याधर नगर में हुई आगजनी की घटना में लापरवाजी बरतने पर नगर निगम प्रशासन ने तीन फायरमैन को निलंबित कर दिया है।

जयपुर। विद्याधर नगर में हुई आगजनी की घटना में लापरवाजी बरतने पर नगर निगम प्रशासन ने तीन फायरमैन को निलंबित कर दिया है। वहीं मुख्य अग्निशमन अधिकारी जलज घसिया और सहायक अग्निशमन अधिकारी राजेंद्र नागर को चार्जशीट देकर अनुशासनात्मक कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। महापौर डॉ. अशोक लाहोटी और आयुक्त रवि जैन ने आदेश जारी कर दिए।

साथ ही रोज गार्डन के लिए गठित कमेटी को ही इस मामले की जांच सौंपी गई है। समिति प्रकरण की भी जांच करके 7 दिवस में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। निगम प्रशासन की ओर से जारी आदेश में फायरमैन हरफूल बढ़ाना, हेमेन्द्र सिंह और अनूप सिंह जाजोरिया को निलंबित किया गया है।

बता दें कि विद्याधर नगर में एक मकान में आग लगने से एक परिवार के पांच जने जिंदा जल गए। परिवार के सबसे बुजुर्ग सदस्य और उनके तीन पोते—पोतियों की मौत के साथ ही परिवार सके एक अन्य सदस्य की भी मौत हो गई। देर रात तीन बजे यह हादसा हुआ तो पूरी कॉलोनी अपने—अपने घरों से बाहर आ गए और राहत बचाव कार्य में जुट गए। हालांकि देरी से पहुंचने के चलते दमकल के कर्मचारियों और स्थानिय पुलिस को विरोध का सामना करना पड़ा।

दादा के लिए ग्राउंड फ्लोर पर सोयी थीं दोनों बहनें
स्थानीय लोगों ने बताया कि लोहे के बड़े कारोबारी महेन्द्र और उनके बेटे संजीव कई सालों से यहां रह रहे थे। संजीव की दो बेटियां अपूर्वा और अर्पिता अपने दादा का विशेष ख्याल रखती थीं। संजीव का बेटा अनिमेश और भांजा शौर्य भी बीती रात घर पर ही मौजूद था।

संजीव और उनकी पत्नी किसी काम से आगरा गए थे। उनका आज जयपुर लौटने का कार्यक्रम था। दादा की देखभाल के लिए ही दोनों पोतियां उनके रूम के साथ वाले रूम में ही सोती थीं। बीती रात भी दोनों पोतियां दादा को खाना खिलाने के बाद सोयी थीं। पोता अनिमेश और शौर्य पहली मंजिल पर सोए थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned