scriptInitiative to preserve Indian culture children present classical music | भारतीय संस्कृति को बचाए रखने की पहल, बच्चों ने दी शास्त्रीय संगीत की प्रस्तुति | Patrika News

भारतीय संस्कृति को बचाए रखने की पहल, बच्चों ने दी शास्त्रीय संगीत की प्रस्तुति

locationजयपुरPublished: Nov 18, 2023 10:07:20 pm

Submitted by:

Gaurav Mayank

जवाहर कला केंद्र में क्रीआर हेरिटेज शो आयोजित, फाउंडेशन के संस्थापक कुलदीप ने बताया कि क्रीआर हेरिटेज शो में आज की शाम स्लम के बच्चों के नाम की गई।उन्होंने बताया कि क्रीआर ने प्रयास किया कि वो एक मंच उपलब्ध कराएं, जिसमें अमीर-ग़रीब का भेद न हो। क्रीआर फाउंडेशन की ओर से आयोजित संगीत संध्या में करीब 150 बच्चों ने शास्त्रीय संगीत के साथ कथक नृत्य, विभिन्न राग काफ़ी, ठुमरी, भूपाली, मालकौंस राग, मल्हार जैसी प्रस्तुतियों ने सभी को चमत्कृत कर दिया।

भारतीय संस्कृति को बचाए रखने की पहल, बच्चों ने दी शास्त्रीय संगीत की प्रस्तुति
भारतीय संस्कृति को बचाए रखने की पहल, बच्चों ने दी शास्त्रीय संगीत की प्रस्तुति

जयपुर। “उन्होंने मां की लोरी सुनी हैं और उस लोरी ने उनको संगीत का उपहार जन्म के साथ दे दिया। मां जब गुनगुनाती हैं तो बच्चे सुनते हैं और आज जब बच्चों ने गुनगुनाया, तब मां सुनने बैठ गई। ऐसा मौक़ा आया जवाहर कला केंद्र में शनिवार को आयोजित क्रीआर हेरिटेज शो में। भारतीय संस्कृति को बचाए रखने की ज़िम्मेदारी के तहत नन्हे बच्चों ने भारतीय शास्त्रीय संगीत की प्रस्तुति दी। इस मौके पर प्रतिभागी बच्चों के साथ क्रीआर फाउंडेशन (Creare Foundation) के संस्थापक कुलदीप धाब, जवाहर कला केंद्र की एडिशनल डायरेक्टर जनरल प्रियंका जोधावत, सेलिब्रिटी गेस्ट शनाया शर्मा, बाल लेखक अनय सक्सेना, 11 वर्षीय वीणा वादक तुरुप्त मंच पर मौजूद रहे।

फाउंडेशन के संस्थापक कुलदीप ने बताया कि क्रीआर हेरिटेज शो (Creare haritage show) में आज की शाम स्लम के बच्चों के नाम की गई। उन्होंने बताया कि क्रीआर ने प्रयास किया कि वो एक मंच उपलब्ध कराएं, जिसमें अमीर-ग़रीब का भेद न हो। क्रीआर फाउंडेशन की ओर से आयोजित संगीत संध्या में करीब 150 बच्चों ने शास्त्रीय संगीत के साथ कथक नृत्य, विभिन्न राग काफ़ी, ठुमरी, भूपाली, मालकौंस राग, मल्हार जैसी प्रस्तुतियों ने सभी को चमत्कृत कर दिया।

बच्चों की प्रस्तुति से मोहित हुए लोग

छोटे बच्चों की ओर से स्वर साधना व साज साधना का अनूठा संसार रच दिया गया। बांसुरी वादक, तबला वादक, हारमोनियम वादक, रुद्र वीणा वादक शो में मौजूद थे और उन्होंने प्रस्तुतियां दी। यह क्रीआर हेरिटेज शो तीन दिवसीय है, जिसके अंतर्गत हेरिटेज थीम पर फ़ैशन शो 19 नवंबर को होगा। लगभग दो सौ बच्चे मंच पर उतरेंगे। उल्लेखनीय है कि तीन दिवसीय प्रदर्शनी भी है, जो जवाहर कला केंद्र के पारिजात-2 में लगी हुई है।

भारतीय संस्कृति को बचाए रखने की पहल, बच्चों ने दी शास्त्रीय संगीत की प्रस्तुति

ट्रेंडिंग वीडियो