तीन लाख बच्चों की हर साल कैंसर से मौत

International Childhood Cancer Day : जयपुर . प्रतिवर्ष 15 फरवरी को International Childhood Cancer Day के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस का उद्देश्य बच्चों में होने वाले कैंसर ( Cancer ) के प्रति Awareness फैलाना तथा कैंसर के गुणवत्तापूर्ण उपचार के लिए कार्य करना है। कैंसर बच्चों में बहुत बड़ा मृत्यु कारक है। विश्व में प्रतिवर्ष 4 लाख बच्चों में कैंसर के लक्षण पाए जाते हैं।

अंतरराष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस
International Childhood Cancer Day : जयपुर . प्रतिवर्ष 15 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस ( International Childhood Cancer Day ) के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस का उद्देश्य बच्चों में होने वाले कैंसर ( Cancer ) के प्रति जागरूकता ( Awareness ) फैलाना तथा कैंसर के गुणवत्तापूर्ण उपचार के लिए कार्य करना है। कैंसर बच्चों में बहुत बड़ा मृत्यु कारक है। विश्व में प्रतिवर्ष 4 लाख बच्चों में कैंसर के लक्षण पाए जाते हैं।

गौरतलब है कि निम्न व माध्यम वर्गीय देशों में कैंसर से पीडि़त बच्चों की मृत्यु दर 80 प्रतिशत है। जबकि विकसित देशों में कैंसर से पीडि़त 80 प्रतिशत बच्चों का जीवन बच जाता है। इसलिए इस असमानता को कम करने की जरूरत है।


इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य कैंसर का शीघ्र निदान, सस्ती व उच्च गुणवत्ता युक्ता दवाओं की उपलब्धता, बेहतर उपचार, कैंसर से पीडि़त बच्चों की बेहतर देखभाल, कैंसर से पीडि़त लोगों के लिए सतत् करियर के विकल्प उपलब्ध करवाना आदि है।


एक सर्वे के अनुसार विश्व में कैंसर से हर साल तीन लाख बच्चों की मौत हो जाती है। गरीब देशों में पैसे की कमी के कारण कैंसर रोगियों को दवा नहीं मिल पाती, दुनिया में हर साल कैंसर से दो लाख से भी ज्यादा बच्चे बिना किसी इलाज के मर जाते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर इलाज हो तो कम से कम एक लाख बच्चे इस बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं।

Anil Chauchan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned