एसीबी की कार्रवाई : मुम्बई पुलिस का उपनिरीक्षक और तीन कांस्टेबल गिरफ्तार

जयपुर में 5 लाख रुपए मांगी रिश्वत, 2 लाख रुपए लेते पकड़ा, धोखाधड़ी के मामले में आरोपी के मकान मालिक को पकड़ लिया था, छोडऩे के एवज में ले रहे थे रकम

By: Mukesh Sharma

Published: 25 Nov 2020, 12:23 AM IST

जयपुर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) नेे मुम्बई पुलिस के एक उप निरीक्षक और तीन कांस्टेबलों को जयपुर में 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा। एसीबी के डीजी बीएल सोनी ने बताया कि एसीबी के एएसपी संजीव नैन ने यह कार्रवाई की। मुम्बई के बोरावली थाने में एक महिला ने मूलत: मुम्बई निवासी हाल जयपुर के कपड़ा व्यापारी विनोद के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कराया था। उक्त मामले में विनोद की तलाश में बोरावली थाने का उपनिरीक्षक प्रशांत सिंदे और कांस्टेबल लक्ष्मण तड़वी, सुभाष पाण्डूरके और सचिन गुनगे सोमवार शाम को ट्रेन से जयपुर पहुंचे थे। जयपुर में मंगलवार तड़के भांकरोटा में विनोद जिस मकान में किराए से रहता था, वहां पर दबिश दी। विनोद नहीं मिला, लेकिन मुम्बई पुलिस ने मकान मालिक ओमप्रकाश शर्मा को अपने साथ भांकरोटा स्थित होटल में ले गई। मुम्बई पुलिस ओमप्रकाश को विनोद को बुलाने की बात कहती रही। फिर मंगलवार दोपहर को ओमप्रकाश को भी उक्त मुकदमे में गिरफ्तार करने की धमकी दी और छोडऩे के बदले में पांच लाख रुपए मांगे। ओमप्रकाश से उसके बेटे अमन को रुपयों के लिए फोन करवाया।

बेटा पहुंचा एसीबी मुख्यालय

एडीजी दिनेश एमएन ने बताया कि मुम्बई पुलिस द्वारा 5 लाख रुपए मांगने पर ओमप्रकाश का बेटा एसीबी मुख्यालय पहुंचा। एएसपी संजीव नैन के नेतृत्व में टीम ने तुरंत सत्यापन किया तो मुम्बई पुलिस ने 2 लाख रुपए में सौदा तय किया। मुम्बई पुलिस भांकरोटा से होटल खाली कर रेलवे स्टेशन के नजदीक गंगा होटल में कमरा बुक करवा लिया था। रिश्वत की रकम शाम साढ़े छह बजे देना तय हुआ। पीडि़त दो लाख रुपए लेकर गंगा होटल पहुंचा, वहां पर मुम्बई पुलिस द्वारा रिश्वत की राशि वसूलते ही उन्हें पकड़ लिया। इस संबंध में मुम्बई पुलिस अधिकारियों को सूचना दे दी है।

89 हजार अतिरिक्त मिले, अकाउंटेंट को भी उठाया

एसीबी को सर्च में मुम्बई पुलिस के पास 2 लाख रुपए के अलावा 89 हजार रुपए अतिरिक्त मिले हैं। मुम्बई पुलिस ने विनोद की फर्म का रजिस्ट्रेशन करने वाले एक अकाउंटेंट को भी उठाया था। लेकिन बाद में उसे छोड़ दिया। आशंका जताई गई है कि मुम्बई पुलिस के पास मिले अतिरिक्त रुपए अकाउंटेंट से तो वसूली गई। एसीबी इसकी तस्दीक के लिए अकाउंटेंट से भी पूछताछ करेगी।

Mukesh Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned